1. लाइफ स्टाइल

Sawan Month : बनाएं साबूदानें की टेस्टी खिचड़ी, खुद खाएं अपनों को खिलाएं

स्वाति राव
स्वाति राव

Sabudaana-Khichdi

सावन का महीना बहुत ही पवित्र माना जाता है. पौराणिक मान्यताओं के अनुसार सावन का महीना भगवान शिव का पसंदीदा माह है. कई लोग इस महीनें व्रत रखकर भगवान शिव को प्रसन्न करने की कोशिश करते है. सावन के सोमवार व्रत को धार्मिंक रूप से तो अच्छा माना जाता ही है,  साथ ही व्रत करना शरीर को स्वस्थ रखने के लिए भी जरूरी माना जाता है. यदि आप भी व्रत रखते हैं तो आपके मन में सबसे पहले यही बात आती होगी कि  व्रत में ऐसा क्या खाएं जो मन को भाएं .

तो अब इस बात की  चिंता  बिलकुल  ना  करें क्योंकि हम इस लेख में  बताएंगे व्रत के लिए हेल्दी-टेस्टी और आसानी से बनने वाले साबूदाने की खिचड़ी की रेसेपी. किसी भी व्रत के फलाहार के लिए साबुदानें  से बनी खीर, खिचड़ी या पापड़ लोगों की पहली पसंद होती है क्योंकि ये आसानी से और जल्दी बन जाने वाली रेसिपी होती है .तो इस लेख में पढ़िएं  साबुदानें  की खिली-खिली खिचड़ी बनाने का आसान तरीका.

साबुदानें की खिचड़ी बनाने के लिए उपयुक्त सामग्री (Ingredients for making Sabudana Khichdi)

साबुदानें  की खिचड़ी बनाने के लिए उपयुक्त सामग्री इस प्रकार है-

  • एक कप साबुदानें ,

  • 250 ग्राम मूंगफली के दाने ,

  • करीपत्ता,

  • आलू (छोटे टुकड़ों में  कटा हुआ ),

  • 2 हरी  मिर्च कटी हुई,

  • नींबू और स्वादानुसार नमक

साबुदानें  खिचड़ी बनाने की विधि (Method to make Sabudana Khichdi)

  • साबुदानें  की खिचड़ी बनाने के लिए सबसे पहले साबुदानें को 2-3 घंटे के लिए पानी में भिगो कर रख दें.

  • साबुदानें  को निकालकर एक मोटे कपड़े या बड़ी छन्नी में 1 घंटे के लिए फैलाकर छोड़ दें.

  • उसके बाद एक कड़ाही में घी डालें और उसमें  मूंगफली को घी में तलकर अलग निकाल लें.

  • कड़ाही के बचे हुए घी में जीरा , करी पत्ता , और हरी मिर्च डालें.

  • उसके बाद कटे हुए आलू के महीन टुकड़े कड़ाही में डालकर पका लें.

  • इसके बाद साबुदानें  डाल दें और नमक मिला दें.

  • खिचड़ी को मध्यम आंच पर चलाते हुए पकाएं और जब साबूदाने का रंग बदल जाएं  तो गैस बंद कर दें.

  • अब आप इस खिचड़ी में थोड़ा नींबू डालें और हरा धनिया डालकर दही या चाय के साथ खा सकते है.

साबुदानें की खिचड़ी बनाते समय रखे विशेष बातों का ध्यान (Special things to keep in mind while making Sabudana Khichdi)

  • साबुदानें  की खिचड़ी बनाते समय ध्यान रखें कि साबुदानें  भिगोने में पानी साबुदानें  से 3 सेंटीमीटर ऊपर होना चाहिए.

  • साबुदानें  से पानी पूरा निकल जाना चाहिए, तब ही इसको खिचड़ी बनाने के लिए उपयोग करें नहीं तो खिचड़ी चिपकने लगेगी. 

  • खिचड़ी बनाते समय ध्यान रहे कि उसे आप कम से कम ढंके और हर थोड़ी देर में  चलाते रहें, जिससे खिचड़ी कड़ाई में चिपकने का डर नहीं रहेगा.

  • पाठकों आप सभी सावन के महीने में उपवास की साबूदाना खिचड़ी बनाकर खाएं और खिलाएं.

  • लाइफस्टाइल से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियाँ जानने के लिए पढ़ते रहिएं कृषि जागरण हिंदी पोर्टल के लेख.

English Summary: make Tasty Khichdi of Sabudana during the fast of Saawan

Like this article?

Hey! I am स्वाति राव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News