1. लाइफ स्टाइल

मिर्गी का दौरा पड़ने के ये हैं मुख्य कारण ज़रूर पढ़िए

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
epilepsy

आधुनिक समय में इंसान मस्तिष्क संबंधी की कई गंभीर बीमारियों की चपेट में आ जाता है. इसमें मिर्गी के दौरा भी शामिल है. यह एक न्यूरोलॉजिकल डिसऑर्डर यानी तंत्रिका तंत्र संबंधी बीमारी है. इस बीमारी में मस्तिष्क में तंत्रिका कोशिका की गतिविधि बाधित हो जाती है. इसकी वजह से मिर्गी के दौरे पड़ना शुरू हो जाते हैं. कभी-कभी इस समस्या से पीड़ित व्यक्ति बेहोश भी हो जाता है. कई बार मिर्गी के दौरे पड़ने से मस्तिष्क को बहुत हानि पहुंच सकती है. यह बीमारी महिलाओं की तुलना में पुरुषों को अधिक होती है. ऐसे में इस बीमारी के प्रति जागरूक होना बहुत ज़रूरी है. आइए जानते हैं कि शरीर में किन चीजों की कमी से मिर्गी का दौरा पड़ सकता है?

विटामिन बी-6

अगर आपके शरीर में विटामिन की कमी है, तो मिर्गी का दौरा पड़ सकता है, इसलिए अपने शरीर में कभी विटामिन की कमी न होने दे. बता दें कि मिर्गी के इलाज में सबसे असरदार विटामिन बी-6 को माना जाता है. यह मिर्गी के दौरों को कम करने में मददगार साबित होता है. ऐसे में जरूरी है कि आप शरीर में विटामिन की कमी न होने दें.  

विटामिन-ई

कुछ मरीजों को विटामिन-ई की कमी से मिर्गी के दौरे पड़ते हैं. एक अध्ययन में बताया गया है कि मिर्गी के लक्षणों को विटामिन-ई नियंत्रित करता है, इसलिए इसके इलाज करने के लिए विटामिन-ई लेने की सलाह दी जाती है. 

मैग्नीशियम

मैग्नीशियम एक उपयोगी तत्व है. इसकी कमी से मस्तिष्क संबंधी बीमारी हो सकती है, जिसमें मिर्गी का दौरा भी शामिल है. एक अध्ययन के मुताबिक, मिर्गी के लक्षणों को  मैग्नीशियम सप्लीमेंट कम करने में मदद करता है. हालांकि, मिर्गी के कारगर इलाज के लिए अभी और शोध करने की जरूरत है. 

English Summary: Main reasons for epileptic seizures

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News