Lifestyle

कहीं आप इस सिगरेट की लत के शिकार तो नहीं ?

आज के समय में सिगरेट कौन नहीं पीता. ज्यादातर युवा आजकल सिगरेट को पसंद करते और पीते है. लेकिन आज हम बात कर रहे हैं एक खास तरह की सिगरेट यानि ई-सिगरेट की. आजकल लोग आम तरह की सिगरेट की जगह पर ई-सिगरेट को पीना ज्यादा पसंद कर रहे है. उनका मानना यह है कि अगर आप धुएं वाली सिगरेट की जगह पर ई-सिगरेट पी लेंगे तो यह सेहत के लिए हानिकारक नहीं होगी. लेकिन यह दावा बिल्कुल ही गलत है और यह आपकी सेहत के लिए बेहद ही हानिकारक है.

जानिए क्या होती है ई-सिगरेट

ई- सिगरेट या वाष्पीकृत सिगरेट एक बैटरी चालित उपकरण है जो नीकोटीन या गैर-निकोटीन के वाष्पीकृत होने वाले घोल की सांस के साथ ली जाने वाली खुराक को प्रदान करता है. यह सिगरेट, सिगार या पाइप जैसे धूम्रपान वाले तंबाकू उत्पादों का एक विकल्प है. इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट किसी हद तक एक लंबी ट्यूब की तरह होती है. जबकि इसका बाहरी आकार वास्तविक धुम्रपान उत्पादों जैसे सिगरेट, सिगार और पाइप डिजाइन जैसा किया गया है. ई- सिगरेट वैसे तो अलग-अलग आकार की होती है लेकिन उसमें कई तरह के अन्य घटक लगे होते हैं जो एक समान होते है.

हानिकारक कैमिकल

ई-सिगरेट में निकोटीन और दूसरे अन्य पदार्थों का घोल होता है. निकोटीन अपने आप में एक ऐसा पदार्थ है जिसकी लत बहुत बुरी होती है. हार्ट रोगियों के लिए यह सिगरेट काफी नुकसानदायक होती है. साथ ही कईं तरह के शोध में दावा किया गया है कि यह श्वास कोशिकाओं के साथ धमनियों को सीधे तौर पर प्रभावित करती है जिससे काफी नुकसान पहुंचता है. लोगों को इस तरह से निकोटीन पदार्थ की बुरी लत पड़ जाती है जिसके बाद लोगों को कईं तरह की स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से सीधा सामना करना पड़ता हैं. इसको छोड़ने के बाद आप डिप्रेशन तक के शिकार हो सकते है.

कैमिकल से कैंसर का खतरा

ई-सिगरेट में काफी ज्यादा मात्रा में एक खुशबूदार कैमिकल भी होता है. ये खुशबूदार कैमिकल जब सांस के द्वारा हमारे फेफड़ों में जाता है तो इसके चलते फेफड़ों के कैंसर की आशंका बढ़ सकती है. इस तरह कईं और बीमारियों का खतरा आसानी से पैदा हो सकता है.

गर्भवती महिलाओं के लिए नुकसानदायक

गर्भवती महिलाओं के लिए वेपिंग काफी ज्यादा खतरनाक होती है. इस तरह की सिगरेट पीने से उनके स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव तो पड़ता ही है साथ ही इसका असर होने वाले बच्चे पर भी पड़ सकता है जो कि काफी ज्यादा खतरनाक है. साथ ही हानिकारक भाप गर्भ में बच्चे के दिमागी संतुलन को प्रभावित कर सकती है.



Share your comments