1. लाइफ स्टाइल

शरीर के लिए ज़हर है दूध वाली चाय

Milk Tea

Milk Tea

हमारी हर रोज़ की एक आदत ऐसी है जो कभी नहीं बदली और यह आदत समय के अनुसार और बढ़ती गयी. यह आदत है चाय पीने की, जिसे भारत में 100 में से 88 प्रतिशत लोग फौलो करते हैं. चाय पीना एक अच्छी आदत है, इसमें कोई शक नहीं परंतु जिसे हम चाय के रुप में ले रहे हैं, क्या वो सही है...इसपर प्रश्न चिन्ह है और इसी प्रश्न का उत्तर हम आपको अपने इस लेख में देंगे.

एक बर्तन पर पानी उबालने के लिए रखा फिर उसमें चाय-पत्ती, चीनी डाली और फिर दूध डालकर उबालने लगे. चाय के रुप में पीए जाने वाला यह मिश्रण हमारे स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है.

दूध वाली चाय से क्या है खतरा

दूध जहां हमारे शरीर के लिए शक्तिवर्धक और प्रोटीनवर्धक है वहीं इसमें यह अवगुण भी है कि इससे कफ या बलगम की मात्रा बढ़ने का खतरा रहता है. इसलिए चिकित्सक या डॉक्टर बलगम या वात के रोगी को दूध और उससे बने हुए खाद्य पदार्थों का सेवन करने से रोकते हैं. 

चाय में दूध के अलावा चाय-पत्ती डलती है और चाय-पत्ती में भारी मात्रा में निकोटीन होता है जिसकी अधिक मात्रा हमारे शरीर के संचालन पर नकारात्मक प्रभाव डालती है. निकोटीन की अधिक मात्रा से मानव शरीर के हॉरमोन बिगड़ने का भी खतरा बना रहता है और चीनी जहां हमारी ज़बान को मिठास से भर देती है वहीं यही चीनी हमारे शरीर के लिए ज़हर से कम नहीं है क्योंकि यदि आप शारीरिक व्यायाम या वरजिश नहीं करते तो यही चीनी आपके शरीर में मोटापा,शुगर जैसी बिमारियां पैदा करती हैं. चाय-पत्ती - दूध - चीनी, इन तीनों का सेवन हमारे शरीर के लिए बहुत हानिकारक है. यह गैस, अपच और न जाने कितनी ही बिमारियों को हमारे शरीर में स्थान देती हैं.

तो करें क्या ?

समस्या बताकर उसके निवारण का उपाय न बताना बेमानी बात होगी. इसलिए हम आपको बताते हैं कि अगर आप दूध वाली चाय नहीं पीते तो उसके स्थान पर आप क्या पी सकते हैं -

नींबू-अदरक-शहद वाली चाय

यह भी चाय ही है और इसको बनाना भी बहुत आसान है. परंतु इसके दो अतिरिक्त फायदे हैं. पहला ये कि यह 2 मिनट में तैयार हो जाती है और दूसरा यह कि यह आपके शरीर को नुकसान तो नहीं पहुंचाएगी बल्कि शरीर में जमे वात और पित्त को साफ कर देगी. इसे बनाना बेहद आसान है.

  •  सबसे पहले आवश्यकतानुसार एक बर्तन में पानी उबालने के लिए छोड़ दें.

  • 2. फिर थोड़ा सा अदरक कूट कर उसमें डाल दें.

  • 3. फिर चाय-पत्ती के 10 से 15 कण उसी में डाल दें और 1 मिनट तक उबालें.

  • 4. अब बर्तन को निकाल लें और छन्नी से गिलास में यही अदरक वाली पानी छान लें.

  • 5. अब इस गिलास में थोड़ा सा नींबू डाल लें और पीछे से स्वादानुसार शहद डालकर चम्मच से हिला लें. आपकी चाय तैयार !

यह चाय आपके शरीर के कईं अंगों को फायदा पहुंचाएगी. जैसे - गला, फेफड़े, आंतें आदि.

English Summary: How sugar disease is made from milk tea

Like this article?

Hey! I am गिरीश पांडेय. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News