1. लाइफ स्टाइल

Home Remedies दांतों में है कैविटी की समस्या, तो अपनाएं ये घरेलू तरीके

स्वाति राव
स्वाति राव

tooth problems

आजकल की व्यस्त दिनचर्या और अनियमित खानपान की वजह से दांतो में कीड़े लगना या कैविटी का होना एक आम बात है. यह समस्या भारत में हर तीसरे व्यक्ति में पाई जाती हैं. जिसका कारण है दांत की अच्छे से सफाई ना करना. इस लेख में पढ़ें कुछ घरेलू उपाय जिनका इस्तेमाल कर इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं.

नारियल तेल का इस्तेमाल –(Use Of Coconut Oil)

दांतों की कैविटी और कीड़ों से निजात पाने के लिए नारियल तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके लिए एक चम्मच खाने वाले नारियल तेल को मुंह में डालकर  करीब 10 से 15 मिनट रखें. उसके बाद कुल्ला कर लें. इस उपाय से आपके दांतों की कैविटी की समस्या कम हो जाएगी.

नीम की दातून का इस्तेमाल –(Use Of Neem Datun)

अगर आपको दांतों में कैविटी या कीड़े की समस्या है तो आप दांतों को साफ करने के लिए नीम के दातून का भी इस्तेमाल कर सकते हैं. नीम दांतों के पीलेपन को दूर करता है. इसके साथ ही नीम की दातून दांतों को मजबूत रखने में भी सहायक होगी.

लौंग के तेल का इस्तेमाल –(Clove Oil Use)

दांतों की समस्या को दूर करने के लिए आप लौंग के तेल का इस्तेमाल कर सकते है. इसके लिए आप रूई का इस्तेमाल करते हुए दो- तीन बूंद लौंग का तेल डालें. आप लौंग के तेल को रात में लगा सकते हैं. इसके अलावा लौंग के तेल में रूई लगाकर कैविटी पर रखें. इस उपाय को नियमित रूप से करने से समस्या से जल्द ठीक हो जाएगा.

लहसुन के तेल का इस्तेमाल –(Use Of Garlic)

दांतों की समस्या होने पर आप लहसुन के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं. लहसुन का तेल बनाने के लिए आप लहसुन की 7 से 8 कलियों को पीस लीजिएगा. दांतों की समस्या होने पर यह तेल कैविटी के हिस्से में लगाकर 10 से 15 मिनट के लिए छोड़ दें और उसके बाद कुल्ला करें.

ऐसे  ही घरेलू नुस्खें जानने के लिए और कृषि सम्बंधित जानकारियों के लिए जुड़े रहिये कृषि जागरण हिंदी पोर्टल से.

English Summary: home remedies to keep away the problem of cavity in teeth

Like this article?

Hey! I am स्वाति राव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News