1. लाइफ स्टाइल

जानें ! गधी के दूध के ऐसे फायदे, जिन्हें आपने कभी सुना भी नहीं होंगा

मनीशा शर्मा
मनीशा शर्मा
donkey Milk

गधी के दूध को पौष्टिक माना जाता है. यह विटामिन और आवश्यक फैटी एसिड से भरपूर होता है, लेकिन इसमें गाय के दूध की तुलना में वसा काफी कम होती है. इसका ज्यादातर इस्तेमाल औषधीय तौर पर बीमारियों के इलाज में किया जाता है. यह दूध गाय के दूध की तुलना में काफी आसानी से पच जाता है. आपको ये जानकर हैरानी होगी कि मिस्र की महारानी क्लियोपेट्रा अपनी खूबसूरती को बरकरार रखने के लिए गधी के दूध से नहाती थी. जिस वजह से उनकी खूबसूरती की कायल दुनिया थी. एक शोध में भी साबित हो चुका है कि गधी का दूध कई तरह की शारीरिक बीमारियों से निजात दिलाने में काफी ज्यादा फायदेमंद है. तो आइये जानते है इसके दूध से होने वाले फायदों के बारे में जो आप कभी सुने न होंगे…..

त्वचा के लिए फायदेमंद

इसका दूध एक प्राकृतिक मॉइस्चराइजर का काम करता है जिससे त्वचा में चमक आने के साथ रंगत भी निखरती है.

सांस संबंधी समस्याओं के लिए लाभकारी

इसका दूध सांस संबंधी समस्याओं के इलाज लिए काफी लाभकारी माना जाता है. इसमें मौजूद मिनरल और कैलोरी की मात्रा काफी ज्यादा होती है. जोकि दमा और सांस संबंधी समस्याओं को ठीक करने में बेहद कारगर साबित होती है.

प्रतिरोधक क्षमता में बढ़ोतरी

इसके दूध के  सेवन से बच्चों की प्रतिरोधक क्षमता में बढ़ोतरी होती है. क्योंकि इसके दूध में लाइसोजाइम जैसे पोषक तत्व मौजूद होते है. जोकि 'नवजात शिशुओं में प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने का काम करते है और कई तरह की गंभीर बीमारियों से भी बचाव करता है.

एंटी एलर्जिक तत्व

एक शोध में पाया गया है कि गधी के दूध में बहुत सारे एंटी एलर्जिक तत्व मौजूद होते हैं जो बच्चों के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद होते हैं. इसके सेवन से उनको कई तरह की एलेर्जी आदि से छुटकारा मिलता है.

कब्ज की समस्या से निजात                      

इसके दूध के सेवन से पाचन तंत्र मजबूत बना रहता है. जिससे कब्ज जैसी समस्या होने का खतरा काफी हद तक कम हो जाता है.

English Summary: health benefits of donkey milk for humans, read more information

Like this article?

Hey! I am मनीशा शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News