1. औषधीय फसलें

चींटियों से तुलसी के पौधे को बचाने के लिए अपनाएं ये 4 टिप्स

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
Basil Plant

Basil Plant

हिंदू धर्म में तुलसी का पौधा बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है. यह पौधा देवी लक्ष्मी का स्वरूप है, तो वहीं धार्मिक कथाओं के अनुसार भगवान श्री कृष्ण ने तुलसी से विवाह भी किया था. इसके साथ-साथ तुलसी को सेहत के लिहाज से भी बहुत महत्वपूर्ण माना गया है, क्योंकि इसमें कई औषधीय गुण पाए जाते हैं.

सबसे अच्छी बात यह है कि आप घर पर आसानी से तुलसी का पौधा लगा सकते हैं. इसे ज्यादा देखभाल की जरूरत भी नहीं होती है, लेकिन आप इस पौधे को नजरअंदाज भी नहीं कर सकते हैं. खासतौर पर जब तुसली के पौधे में कीड़े या चींटियां लग रही हो. अगर ऐसा हो, तो आपको तुलसी के पौधे का विशेष ध्यान रखना है.

कब लगती हैं तुलसी के पौधे में चींटिंया (When do ants appear in Tulsi plant?)

जब मौसम बदलता है, तब तुलसी के पौधे में कीड़े या चींटियां लग जाती हैं. इससे पौधे को काफी नुकसान होता है, क्योंकि चींटियां पौधे की जड़ों को नुकसान पहुंचाती हैं, साथ ही उनकी पत्तियां खा जाती हैं.

इस स्थिति में तुलसी का पौधा खराब होने लगता है. इसकी  पत्तियां झड़ने लगती हैं. इसके लिए आप कुछ खास उपाय अपना सकते हैं,  जिससे तुलसी के पौधे में कीड़े, चींटियां और फंगस लगने का खतरा कम होगा.

नीम (Neem Tree)

अगर आप नीम की खली का पाउडर और नीम की पत्तियों का पानी तुलसी की जड़ों में डालते हैं, तो तुलसी के पौधें में कीड़े, चींटियां और फंगस लगने का खतरा कम हो जाता है.

फिनाइल (Phenyl)

आमतौर पर फिनाइल का इस्तेमाल घर के फर्श की साफ-सफाई करने के लिए होता है.  इससे कीटाणु नष्ट होते हैं, लेकिन अगर आप चाहते हैं, तो एक ढक्कन फिनाइल को 200 एमएल पानी में मिलाकर एक बॉटल में भरकर रख लें. 

इसके बाद 2 चम्मच तुलसी की रूट्स में डाल दें. इस तरह चींटियां भाग जाती हैं. ध्यान रखें कि आपको पहले गीली मिट्टी को हटाना है फिर सूखी मिट्टी को डालना है, इसके बाद घोल मिलाना है.

लहसुन और प्याज (Garlic and Onion)

इसके लिए आपको 4 से 5 लहसुन को कूट लेना है, फिर उसे धूप में सुखाना है. इसके बाद कुटे लहसुन का पाउडर तुलसी के पौधे की रूट्स में मिलाएं. इस तरह तुलसी में लगी चींटियां दूर भाग जाएंगी, साथ ही फंगस भी खत्म हो जाएगी.  

प्याज के छिलके (Onion Peels)

आप रोजाना ही किचन में प्याज का इस्तेमाल करते होंगे. बस आपको प्याज के छिलकों को  फेंका नहीं है, बल्कि उन्हें सुखा लेना है. इसके बाद तुलसी की मिट्टी में मिलाना है. ऐसा करने पर चींटियां कुछ ही समय में पौधे से दूर होने लगेंगी. 

ध्यान रखना है कि तुलसी में रोजाना पानी डालने की जरूरत नहीं है. जब पौधे की मिट्टी पूरी तरह से सूख जाए, तब ही पौधें में पानी डालें. अगर आपके तुलसी के पौधे में चींटियां लग रही हैं, तो आप ऊपर बताए गए उपायों को अपना कर जरूर देखें.

English Summary: tips to protect basil plant from ants

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News