Interviews

जैविक खेती कर किसान प्राप्त करें लाभ - इन्द्रजीत सिंह

जैविक खेती अपना कर किसान खुद तो लाभ प्राप्त करेंगे ही साथ ही समाज और देश के लिए जैविक उत्पाद लाभकारी है किसानों के लिए बेहतर होगा की कम से कम रासायनिक उत्पादों का प्रयोग करें उक्त बातें कोरटेक एग्री एण्ड बायो सोल्युशन प्रायवेट लिमिटेड कम्पनी के डायरेक्टर इन्द्रजीत सिंह का कहना है हाल ही में कृषि जागरण टीम से मुखातिम होने पर एक सामान्य वार्तालाप हुई जिसमें उन्होंने बताया कि कम्पनी की शुरूआत 2007 में 40 उत्पादों से साथ हुई। उसके बाद से किसानों की सेवा में तत्पर है। किसानों की भी लोकप्रियता मिलने से कम्पनी के विकास में गति प्रदान कर दिया है। कम्पनी के उत्पाद किसानों को खूब पसंद आ रहे है।

लेकिन इस बात की प्रतिपुष्टि कैसे मिलती है? यह बात पूछनें पर श्रीसिंह ने बताया कि प्रत्येक क्षेत्र में किसानों से मिलने और उनका व्यू जाननें के लिए प्रत्येक क्षेत्र में कम्पनी के कार्यकर्ता सक्रिय हैं। जिनके माध्यम से हर समय किसानों की जरूरत और विचार कम्पनी तक पहुंचने हैं फिर उन पर अमल किया जाता है। कम्पनी के बारें में सबसे बड़ी बात इसके उत्पाद बढ़ने के बजाय घटे हैं जबकि अन्य कम्पनी में समय के साथ उत्पादों की बढ़ोत्तरी होती रहती है। इसका कारण जानना चाहा तो  श्रीसिंह साहब ने बताया कि हम कम्पनी का फायदा बाद में देखते हैं हमारे लिए सबसे पहले किसानों का विकास और हित है। इस लिए कुछ ऐसे रासायनिक उत्पादों का निर्माण बंद कर दिया गया है, जो कि बहुत ज्यादा नुकसान दायक थे।

कम्पनी का आधार किस उत्पाद को मानते है ? लहर एवं CH2 तुरन्त उत्तर मिला। साथ ही बताया कि किसानों और खेतों के बीच लहर उत्पाद की महत्वपूर्ण भूमिका है। कम्पनी के उत्पाद उत्तर प्रदेश मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, उत्तराखण्ड, पंजाब ,हरियाणा व बिहार में आसानी से पहुंच जाते हैं इन्ही राज्यों में कम्पनी की शाखाएं भी हैं जो किसानों की सेवा में संलग्न है। बाजार में कम्पनियों के प्रतियोगिता पर क्या विचार है , इस बात पर श्रीसिंह ने बताया कि हम प्रतियोगी कम्पनियों को नही बल्कि अपने उत्पाद की गुणवत्ता पर ध्यान देते हैं अगर हमारे उत्पाद गुणवत्तायुक्त है और किसानों की कसौटी पर खरे उतर रहे हैं तो कम्पनी को बढ़ने से कोई नही रोक सकता।  साथ ही किसानों के लिए संदेश के रूप में कहा कि किसान भाइयों को जैविक खेती पर पूरा ध्यान देना चाहिए जिसमें स्वास्थ्य का राज़ है और इससे खेत के मिट्टी की उर्वरता हमेशा बरकरार बनी रहेगी।


Share your comments