आपके फसलों की समस्याओं का समाधान करे
  1. सरकारी योजनाएं

PM Kisan Yojana: इस महीने से आएगी 2000 हजार की 8वीं किस्त! स्टे्टस में जरूर देखें क्या लिखा है?

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
PM Kisan Yojana

PM Kisan Yojana

अब तक प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) के तहत किसानों को 2-2 हजार रुपए की 7 किस्त मिल चुकी हैं. इसके बाद किसान योजना की 8वीं किस्त का इंतजार कर रहे हैं.

ऐसे में किसानों के लिए एक खुशखबरी है कि पीएम किसान योजना की 8वीं किस्‍त मई से आना शुरू हो जाएगी. जी हां, अगर आप पीएम किसान योजना का लाभ उठाते हैं, तो एक बार जरूर ध्यान दें कि आपके आवेदन में किसी तरह की देर हुई या फिर किसी तरह की कोई गड़बड़ी हुई, तो आप यह लाभ लेने से चूक जाएंगे. इसलिए बेहतर यह है कि आप समय पर पीएम किसान योजना का स्टेटस चेक कर लें.

जानकारी के लिए बता दें कि छोटे और सीमांत, दोनों किसानों को पीएम किसान योजना के तहत आर्थिक सहायता दी जाती है. इसके तहत योग्य किसानों को हर साल 3 किस्त में 6 हजार रुपए दिए जा रहे हैं. इसकी सारी जानकारी सरकारी वेबसाइट pmkisan.gov.in पर उपलब्ध कराई जाती है.

कहीं स्‍टेटस के सामने ये तो नहीं लिखा है?

  • अगर आप पीएम किसान योजना की 8वीं किस्त के स्टेटस में Waiting for approval by state लिखा है, तो आपको अभी 8वीं किस्त के लिए थोड़ा इंतजार करना होगा. इसका मतलब यह है कि राज्य सरकार की अनुमति मिलते ही खाते में 2 हजार रुपए आ जाएंगे.

  • अगर स्टेटस में Rft Signed by State Government’ लिखा आए, तो मतलब लाभार्थी के डेटा की जांच कर ली गई है. अब राज्य सरकार केंद्र से अनुरोध करेगी कि खाते में पैसे भेजे जाएं.

  • इसके अलाव स्टेटस में FTO is Generated and Payment confirmation is pending लिखा आए, तो मतलब किस्त जल्द ही खाते में भेजी जाएगी.

इन नंबरों पर लें जानकारी

पीएम किसान हेल्पलाइन– 155261

पीएम किसान टोल फ्री– 1800115526

पीएम किसान लैंड लाइन नंबर- 011-23381092, 23382401

मेल आईडी- pmkisan-ict@gov.in

English Summary: The 8th installment of PM Kisan Yojana will come from May

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News