1. सरकारी योजनाएं

Agriculture Schemes of india किसानों के लिए जरूरी 5 योजनाएं, जानिएं कैसे ले सकते हैं लाभ

स्वाति राव
स्वाति राव
PM Kisan Yojana

PM Kisan Yojana

भारत देश कृषि प्रधान देश है.  देश में किसानों के हित के लिए केंद्र सरकार द्वारा कई योजनायें चलाई जाती हैं. केंद्र सरकार की इन योजनाओं का लाभ देश के सभी किसान ले सकते हैं . आप इन योजनाओं का लाभ लेकर अपनी फसल से अधिक आय कमा  सकते हैं.  इन योजनाओं का किसान भाई लाभ किस प्रकार ले सकते हैं. जानने के लिए पढ़िएं  इस लेख में.

1 ) प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Scheme

कल यानि 9  अगस्त को ही किसान सम्मान निधि योजना की 9 वी क़िस्त जारी की गयी. प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि  भारत सरकार  की महत्वपूर्ण योजनाओं में से एक योजना है. इस योजना के अन्तर्गत छोटे और सीमान्त किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करती है. प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत ₹ 6,000 प्रतिवर्ष प्रत्येक पात्र किसान को तीन किश्तों में भुगतान किया जाता है और सहायता राशि सीधे उनके बैंक खातों में जमा हो जाती है. अर्थात प्रत्येक 4 माह के बाद किसान को  2 हजार रूपए की सहायता राशि दी जा रही है.

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना  से होने वाला लाभ-(Benefit from Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana)

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत ₹ 6,000 प्रतिवर्ष प्रत्येक पात्र किसान को तीन किश्तों में भुगतान किया जाता है और सहायता राशि सीधे उनके बैंक खातों में जमा हो जाती है. अर्थात प्रत्येक 4 माह के बाद किसान को  2 हजार रूपए की सहायता राशि दी जा रही है.

2 ) प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना(PMFBY)– (Pradhan Mantri FasalBima Yojana) (PMFBY) –

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत किसानों को  बुआई के पहले से और फसल की कटाई के बाद तक के लिए बीमा सुरक्षा मिलती है. फसल बीमा योजना के तहत रबी, खरीफ, जायद  और बागबानी फसलों को भी शामिल किया जाता है.

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से होने वाला लाभ- (Benefits of Pradhan Mantri FasalBima Yojana)

  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत देश के किसानों का बीमा किया जाता है.

  • यदि किसी किसान की फसल प्राकृतिक आपदा के कारण नष्ट हुई है तो उन्हें इस योजना का लाभ प्रदान किया जाता है .

3 ) प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना (Pradhan Mantri Krishi Sinchayee Yojana)

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना को केंद्र सरकार द्वारा आरंभ किया गया है. इस योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य सिंचाई उपकरण खरीदने पर सब्सिडी मुहैया कराना है जिससे कि खेतों की सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध हो सके.

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना  से होने वाला लाभ- (Benefits of Pradhan Mantri Krishi Sinchai Yojana)

  • इस योजना के तहत किसानों को अपने खेतो में सिचाई के लिए उचित मात्रा में पानी उपलब्ध करवाया जाता है और उसके लिए सरकार सिंचाई उपकरणों के लिए सब्सिडी प्रदान करती है.

  • खेती के लिए आवश्यक पानी की इसी कमी को पूरा करने के लिएप्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना की शुरुआत की गई है। जिससे किसानों को सिंचाई करने में सुविधा होगी.

4 ) E-NAM-राष्ट्रीय कृषि बाजार- (National Agricultural Market)

राष्ट्रीय कृषि बाजार पोर्टल किसान की फसलों को ऑनलाइन बिकवाने के लिए देशभर में कृषि मंडी - ई मंडी की शुरुआत की गई है . इसकी शुरुआत  देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 14 अप्रैल, 2016 को की थी. राष्ट्रीय कृषि बाजार के तहत रजिस्टर्ड होकर किसान अपनी उपज अच्छी कीमत पर कहीं भी बेच सकते है. किसानों को  बिचौलियों और आढ़तियों पर निर्भर नहीं होना पड़ेगा. सरकार ने अब तक देश की 585 मंडियों को इस योजना के तहत जोड़ा है.

राष्ट्रीय कृषि बाजार से होने वाला लाभ- (Benefits of National Agricultural Market)

  • इससे किसानों को कृषि उत्पादों की बिक्री के लिए एक से अधिक विकल्प मिल जाते हैं.

  • किसान की पहुँच सीधे गोदाम तक हो जाती है जिससे उसे मंडी तक उत्पाद पहुँचाने के लिए परिवहन की व्यवस्था नहीं करनी पड़ती है.

  • मंडी और बाजार के स्थानीय व्यापारियों को e-NAM के माध्यम से द्वितीयक वाणिज्य के लिए एक अधिक बड़े राष्ट्रीय बाजार तक पहुँच प्राप्त हो जाती है.

  • e-NAM मंच के माध्यम से थोक विक्रेताओं, प्रसन्सकरणकर्ताओं , निर्यातकों आदि को राष्ट्रीय स्तर पर उत्पाद बेचने के लिए अवसर मिल जाता है और बिचौलियों पर निर्भर भी नहीं रहना पड़ता.

परम्परागत कृषि विकास योजना– (Paramparagat Krishi Vikas Yojana)

परंपरागत कृषि विकास  योजना सरकार ने आर्गेनिक खेती को बढ़ावा देने के लिए शुरू की है ,  परंपरागत कृषि विकास योजना के तहत किसानों को जैविक उत्पादन के लिए आवश्यक विभिन्न प्रकार के इनपुट जिसमें वर्मी कंपोस्ट, बायोडायनेमिक और नाडेप खाद बनाने का प्रशिक्षण किसानों के खेत में ही दिया जाता है . किसानों की जमीन का पीजीएस के माध्यम से प्रमाणीकरण कराने का कार्य किया जा रहा है, जिससे उन्हें देश के विभिन्न भागों में प्रमाणित जैविक उत्पादों को बेचने में सुविधा मिलेगी. इसके अतिरिक्त किसानों को फसल तैयार होने पर उनके उत्पाद की  ग्रेडिंग, पैकिंग, ब्रांडिंग और मार्केटिंग की ट्रेनिंग भी दी जाएगी.

परम्परागत कृषि विकास योजना से होने वाले लाभ – (Benefits of Paramparagat Krishi Vikas Yojana)

  • इस योजना के अंतर्गत किसानों को सीधा पैसा नहीं मिलेगा बल्कि किसानों को जैविक बीज, जैविक कीटनाशक के साथ जैविक खेती के लिए आवश्यक उपकरण सीधे उपलब्ध करवाएं जाते है .

  • जैविक खेती के लिए राज्य का कृषि विभाग किसानों को मार्गदर्शन प्रदान करता है .

  • किसानों के समूह को जैविक बीज, जैविक खाद, स्प्रे और उपकरण उपलब्ध करवाएं जाते है .

  • जैविक खेती करने के तरीकों के साथ किसान अपनी उपज की ब्रांडिंग करने और बेचने के तरीके भी सीख पाएंगे.

किसान भाइयों ये है आपके लिए विशेष योजनाएं, जिनका लाभ लेकर आप खेती से मुनाफा कमा सकते है.इन योजनाओं की अधिक जानकारी के लिए पढ़ें कृषि जागरण हिंदी पोर्टल की ख़बरें एवं लेख.

English Summary: 5 important government schemes in the agriculture sector, how farmers can take benefits

Like this article?

Hey! I am स्वाति राव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News