1. खेती-बाड़ी

Soil Health Card Scheme : मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना क्या है? आइए जानते हैं इसके फायदे

Soil Health Card

Soil Test

खेती को लाभ को धंधा बनाने के लिए सरकार अपनी तरफ से प्रयासरत है. इसके लिए सरकार किसानों के लिए कई तरह की योजनाएं भी चला रही है. हालांकि खेती बेहतर मुनाफे का धंधा तभी संभव है किसानों को खेती सम्बंधित सही जानकारी होगी. 

उन्हें अपने खेत की मिट्टी में आवश्यक पोषक का ज्ञान होगा तभी वह अधिक पैदावार ले पाएगा. इसके लिए केंद्र सरकार मृदा स्वास्थ्य कार्ड (Soil Health Card Scheme) चला रही है. यह किसानों के लिए बेहद उपयोगी साबित हो सकती है. दरअसल, इस स्कीम के तहत किसानों को फसल के अनुसार जरुरी पोषक और उर्वरकों की सही जानकारी दी जाती है. तो आइए जानते हैं इस स्कीम के बारे में. 

कैसे काम करती है यह स्कीम

  • इसके लिए सबसे पहले कृषि अफसर किसानों के खेत से मिट्टी का नमूना लेते हैं.

  • जिसे परीक्षण के लिए प्रयोगशाला भेजा जाता है.

  • जहां मिट्टी का परीक्षण करके मिट्टी सम्बंधित सारी जानकारियां इकट्ठा की जाती है.

  • इसके बाद विशेषज्ञ किसान के खेत से लिए गए मिट्टी सैंपल की कमजोरी और ताकत की एक लिस्ट तैयार करते हैं.

  • मिट्टी की कमजोरी से किसान को अवगत कराकर सुधार के लिए जरुरी सुझाव दिए जाते हैं. इसकी एक लिस्ट भी तैयार की जाती है.

  • इन रिपोर्ट्स को ऑनलाइन अपलोड कर दिया जिसे आप ऑनलाइन देख सकते हैं. वहीं किसान को इसकी जानकारी मोबाइल पर भी दी जाती है.

मृदा हेल्थ कार्ड पर क्या जानकारी होती है -

मृदा हेल्थ कार्ड पर मिट्टी की सेहत के अलावा मिट्टी की उत्पादक क्षमता की जानकारी दी हुई होती है. इसके अलावा इस कार्ड पर परीक्षण के लिए भेजी गई मिट्टी में उपस्थित पोषक तत्वों की जानकारी दी हुई होती है. वहीं अच्छे उत्पादन के लिए आवश्यक उन पोषक तत्वों जिसकी मिट्टी में कमी है उसकी जानकारी भी कार्ड पर होती है. अन्य जानकारियां जैसे मिट्टी में नमी, अन्य पोषक तत्वों की जानकारी और अधिक पैदावार के लिए खेतों की गुणवत्ता सुधारने से सम्बंधित जानकारियां होती है.

हेल्थ कार्ड के लिए कैसे आवेदन करें -

  • सबसे पहले ऑफिशियल वेबसाइट https://www.soilhealth.dac.gov.in/ पर विजिट करें.

  • अब लॉगिन ऑप्शन पर क्लिक करके राज्य का चुनाव करें.

  • यहां यूजर नाम, पासवर्ड और कैप्चा डालकर लॉगिन करें. यदि आप नए यूजर है तो अपना अकॉउंट रजिस्टर्ड करें.

  • नया अकॉउंट रजिस्टर्ड करने के लिए आपको राज्य का चुनाव, भाषा और यूजर की डिटेल और मोबाइल नंबर समेत अन्य जानकारी देनी होगी.

  • अकाउंट क्रिएट करने के बाद आप लॉगिन करके मृदा हेल्थ कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

सैंपल कैसे ट्रैक करें 

  • सबसे पहले https://www.soilhealth.dac.gov.in/ की वेबसाइट पर विजिट करें.

  • यहां आपको फार्मर कार्नर में Track your sample पर क्लिक करना होगा.

  • यहां आपके राज्य के चुनाव समेत जरुरी जानकारियां देनी होगी. जिसमें जिले, मंडल और गांव में से किसी एक चयन करना होगा.अब इसमें किसान का नाम, गांव का ग्रिड नंबर और सैंपल नंबर की जानकारी देनी होगी.

  • इसके बाद सर्च ऑप्शन पर क्लिक करके अपना स्टेटस देखें.

English Summary: latest information about soil health card scheme

Like this article?

Hey! I am श्याम दांगी. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News