1. खेती-बाड़ी

आलू की बंपर पैदावार के लिए विशेषज्ञों की सलाह

श्याम दांगी
श्याम दांगी
aloo

देशभर में किसान रबी फसलों की तैयारियों में जी जान से जुट गए हैं. आलू भी रबी सीजन की प्रमुख फसल है. इस समय उत्तर प्रदेश समेत देश के कई हिस्सों में आलू की बुवाई की जाना है. इसके लिए किसानों ने बीज की तैयारी कर ली है. इधर, आलू की बुवाई से पहले कृषि विशेषज्ञों ने किसानों को कुछ जरुरी सलाह दी. तो आइये जानते हैं कृषि विशेषज्ञों का क्या कहना है-

जुताई करके छोड़ दें खेत

उत्तरप्रदेश के किसानों को कृषि विशेषज्ञों ने जरुरी सलाह दी है कि आलू की बंपर पैदावार के लिए खेतों की जोताई करके छोड़ दें. कृषि विशेषज्ञ विकास पुरी का कहना आलू की खेती करने वाले किसानों को खेत की अच्छी जुताई करने के बाद 10 दिनों के लिए छोड़ दें. दस दिनों किसानों को आलू की बुवाई कर देनी चाहिए. उन्होंने कहा कि आलू की बुवाई का समय आ गया है. खेत की जुताई करके कुछ छोड़ने से खरपतवार नष्ट हो जाते हैं. जिससे आलू की अच्छी पैदावार होती है. साथ ही पूरी ने कहा कि आलू की बुवाई के दौरान पौधे से पौधे की दूरी का विशेष ध्यान देना चाहिए.

ये हैं आलू की प्रमुख किस्में-

कुफरी अलंकार, कुफरी चंद्र मुखी, कुफरी नवताल जी 2524, कुफरी बहार 3792 ई, कुफरी शील मान, कुफरी ज्योति, कुफरी सिंदूरी, कुफरी बादशाह, कुफरी देवा, कुफरी लालिमा, कुफरी लवकर और कुफरी स्वर्ण.

English Summary: farmers leave the fields plowing for good potato production

Like this article?

Hey! I am श्याम दांगी. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News