1. बाजार

नींबू की कीमतों में गिरावट, तो वहीं टमाटर 100 रुपये हुआ पार, पढ़ें क्या है पूरी खबर

देश में आए दिन सब्जियों के दाम लगातर बढ़ते व घटते रहते हैं. जिसके चलते लोगों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है. इस बार ओलावृष्टि के साथ हुई बारिश के कारण सब्जियों के दाम में बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है, लेकिन वहीं मंडी में नींबू की कीमतों में गिरावट देखने को मिली है.

लोकेश निरवाल
नींबू की कीमतों में गिरावट
नींबू की कीमतों में गिरावट

मानसून से पहले बारिश होने पर सब्जियों की कीमतों में लगातार वृद्धि देखी जा रही है. जिससे आम लोगों की जेब पर असर पड़ रहा है. आपको बता दें कि, बाजार में टमाटर की कीमतें (Tomato Price Hike) 100 रुपये प्रति किलो के पार पहुंच गई हैं और साथ ही फूल गोभी भी 100 रुपये प्रति किलो बिक रही है.

ये ही नहीं बाजार में लौकी, तोरई से लेकर खीरे तक अन्य सब्जियों की कीमतों में भी लगातार तेजी देखने को मिल रही हैं. इस विषय में व्यापारियों का कहना है कि थोक में सब्जी के दामों में उतनी बढ़ोतरी नहीं हुई है, जितनी फुटकर बाजार में पाई जा रही है. व्यापारियों का यह भी कहना है कि, नींबू की कीमत में गिरावट दर्ज की गई है. यह गिरावट  35 रुपये प्रति किलो तक आ गई है, लेकिन आम लोगों को अब भी फुटकर में नींबू 125 से 150 रुपये प्रति किलो खरीदना पड़ रहा है. दिल्ली की आजादपुर मंडी में सब्जी व्यापारियों का कहना है कि, इस बार समय से पहले बारिश होने के कारण मंडी में कुछ सब्जियों की आवक कम हुई है और साथ ही टमाटर की आवक भी घटी है, जिससे कीमत में इजाफा हुआ है.

सब्जियों की कीमतों में आई तेजी

देखा जाए तो बाजार में दो दिन पहले टमाटर की कीमत करीब 40 रुपये प्रति किलो के आसपास था, जो बढ़कर 45 से 50 रुपये हो गई है. इसके बाद बाजार में लौकी, तोरई, भिंडी, करेला और खीरे की कीमतों में भी तेजी आई है. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, जहां पहले मंडी में खीरा 7 से 8 रुपये किलो था जो बढ़कर 10 रुपये प्रति किलो हो गया. जबकि वहीं देसी खीरे की कीमत 15 से 20 रुपये प्रति किलो तक थी. दिल्ली के बाजारों में भी दिन पर दिन सब्जियों की कीमतों में अंतर देखने को मिल रहा है. जैसे कि- सदर, सरोजिनी नगर, करोल बाग, रोहिणी और कुछ इलाकों में अच्छी क्वालिटी का टमाटर 90 से 110 रुपये प्रति किलो बिका, वहीं साप्ताहिक बाजार में टमाटर की कीमतें 80 से 90 रुपये प्रति किलो तक पहुंच चुकी है. ठीक इस प्रकार से अलग-अलग बाजारों के हिसाब से सब्जी की कीमतों में अंतर देखने को मिल रहा है.

एक रिपोर्ट के अनुसार, मिलेनियम सिटी में एक महीने पहले तक नींबू की बढ़ी कीमतों (increased prices of lemons) की वजह से लोग को बहुत सी परेशान का सामना करना पड़ रहा था. वहीं अब टमाटर की कीमत ने लोगों के बजट को बिगाड़ दिया है. देखा जाए तो फुटकर में 60 से 80 रुपये प्रति किलो टमाटर बिक रहा है. टमाटर की बढ़ी कीमतों की वजह से यह आम आदमी की पहुंच से दूर होता जा रहा है. ज्यादातर लोग अब टमाटर को खरीदने से बचते है. जहां बाजार में कुछ सप्ताह पहले टमाटर 25 से 30 रुपये किलो लोगों को प्राप्त हो रहा था और अब गुरुग्राम की खांडसा मंडी में भी थोक में टमाटर 35-40 रुपये प्रति किलो तक बिक रहा है.  

बारिश के कारण सब्जियों के दाम बढ़े

जैसे कि आप जानते हैं कि, पिछले कुछ दिनों में हुई बारिश के चलते सब्जियों के दाम में तीन गुना तक बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है. बाजार में घीया, गोभी, टिंडा, खीरा, तुरई, भिंडी सहित अन्य बाकी सब्जियां भी महंगी हो गई है.

बाजार में जो घीया 10 रुपये किलो बिक रही थी वहीं अब 30 रुपये किलो तक बिक रही है. अगर टमाटर की बात करें तो जो एक सप्ताह पहले बाजार में करीब 30 रुपये किलो तक बिक रहा था आज वहीं बाजार में 60 रुपए किलो तक लोग खरीदने पर मजबूर हो रहे है. सब्जी विक्रेताओं का कहना है कि, पिछले दिनों हुई बारिश से सब्जियां काफी खराब हो गई इस कारण सब्जियों के दामों में बढ़ोतरी हुई है.

English Summary: Lime prices fall while tomato crosses Rs 100 Published on: 28 May 2022, 12:25 IST

Like this article?

Hey! I am लोकेश निरवाल . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News