Weather

जानिए कैसा रहेगा आपके राज्य में मौसम का हाल

अगर आज की हम मौसम की बात करें तो मध्यप्रदेश के अधिकांश भागों में जमकर बारिश हो रही है. बारिश की वजह से राज्य के लोगों का हाल बेहाल कर दिया है. आलम यह है कि भारी बारिश के चलते भोपाल और सागर जिलों में लोगों के घरों में पानी घुस गया है. मौसम विभाग के मुताबिक अगले तीन से चार दिनों तक बारिश की चेतावनी को जारी किया गया है. साथ ही राज्य के मंडला जिले में 134 मिली मीटर बारिश को रिकॉर्ड किया गया है. वही बारिश की वजन से नर्मदा नदी भी काफी उफान पर आ गई है. जबलपुर में नर्मदा नदी पर बना हुआ बारगी बांध पानी से लबालब हो गया है. बांध के 21 गेट खोले गए है. साथ ही भोपाल समेत कई जिलों में आज भारी बारिश से स्कूल कॉलेज बंद रहेंगे. बारिश के कारण निचली बस्तियों में पानी भर गया है और अवगमन प्रभावित भी हुआ है. राज्य में बहुत जगह पर भारी बारिश तो कहीं पर रूक-रूक कर बारिश हो रही है. पुलिस और प्रशासन ने नर्मदा नदी के आसपास के इलाकों को काफी सर्तक कर दिया है.

देश में ऐसा है मौसमी सिस्टम

मध्य प्रदेश के अलावा देश में अन्य राज्यों की बात करें तो इस समय पर निम्न दबाव का क्षेत्र ओडिशा के मध्य भागों में बना हुआ है. चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र गुजरात के सौराष्ट्र और कच्छ क्षेत्र पर दिखाई देता है. वही दूसरी ओर मानसून की अक्षीय रेखा राजस्थान से बंगाल की खाड़ी तक बनी हुई है. इस समय पर यह मानसून की ट्रफ रेखा बीकानैर, कोटा, पेंड्रा रोड औ ओडिशा पर बने निम्न दबाव के मध्य से हो होकर गुजरी है. पश्चिमी तटों पर बनने वाले इस ट्र्फ  का समय गुजरात के तटीय भागों से लेकर केरल तक सक्रिय है.

अगले 24 घंटों में अनुमान

आने वाले दिनों में मध्य प्रदेश, गुजरात, उप हिमालय, पश्चिम बंगाल, तटीय कर्नाटक में ज्यादातर स्थानों पर जबकि छत्तीसगढ़, दक्षिणी उत्तर प्रदेश, असम के कई स्थानों पर काफी गरज और बरस के साथ बारिश होने की संभावना है. गुजरात और गोवा, कोंकण के कई स्थानों पर, बिहार, उत्तरी तेलंगाना, ओडिशा, बिहार, झारखंड, पूर्वी उत्तर प्रदेश, उत्तरी केरल, शेष पश्चिम बंगाल और पूर्वोत्तर राज्यों के कई स्थानों पर मध्य बारिश हो सकती है. लेकिन गुजरात, हरियाणा, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु और रायलसीमा के ज्यादा इलाकों में मौसम शुष्क रहेगा. हालांकि एक दो जगहों पर बारिश की संभावना बनी हुई है.



English Summary: Heavy rains in Madhya Pradesh, know weather conditions in other states as well

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in