1. मौसम

हरियाणा, राजस्थान और दिल्ली समेत इन राज्यों में बारिश और आंधी की संभावना !

इस बार मानसून को लेकर एक चौंकाने वाली खबर सामने आ रही है. जिसमें यह कहा जा रहा है कि कोरोना का संक्रमण मानसून के जरिए वापस लौटकर आ सकता है. हालांकि अभी मानसून आने में समय है और कोरोना वायरस अपनी चरम सीमा पर है. मौसम विभाग के अनुसार, यह अनुमान लगाया जा रहा है कि 25 अप्रैल के बाद से देश के ज्यादातर राज्यों में बारिश हो सकती है.

मनीशा शर्मा

इस बार  मानसून को लेकर एक चौंकाने वाली  खबर सामने आ रही है. जिसमें यह कहा जा रहा है कि कोरोना का संक्रमण मानसून के जरिए वापस लौटकर आ सकता है. हालांकि अभी मानसून आने में समय है और कोरोना वायरस अपनी  चरम सीमा पर है. मौसम विभाग के अनुसार, यह अनुमान लगाया जा रहा है कि 25 अप्रैल के बाद से देश के ज्यादातर राज्यों में बारिश हो सकती है.आने वाले 24 घंटों में गंगीय पश्चिम बंगाल, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा के आस-पास के इलाकों में बारिश जारी रहने की संभावना है. अगर बात करें, पूर्वोत्तर भारत, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, झारखंड, आंतरिक तमिलनाडु, केरल, दक्षिणी कर्नाटक, तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, उत्तराखंड कि तो वहां के कुछ हिस्सों और उत्तर प्रदेश के मध्य हिस्सों में कुछ जगहों पर प्री-मॉनसून बारिश हो सकती है. इसके साथ ही हरियाणा और राजधानी दिल्ली में कुछ जगहों पर और उत्तर व पूर्वी राजस्थान के कुछ हिस्सों में धूल भरी आंधी और बारिश के आसार है.ऐसे  में आइए निजी मौसम एजेंसी स्काइमेट के अनुसार जानते हैं आने वाले 24 घंटों के दौरान मौसम का पूर्वानुमान-

देशभर में बने मौसमी सिस्टम

एक पश्चिमी विक्षोभ इस समय उत्तरी पाकिस्तान और इससे सटे उत्तरी अफगानिस्तान पर है. पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से विकसित हुआ चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र मध्य पाकिस्तान पर है.राजस्थान के मध्य भागों पर भी एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र दिखाई दे रहा है। एक अन्य चक्रवाती सिस्टम पश्चिमी उत्तर प्रदेश पर भी बन गया है.उत्तरी बिहार से दक्षिण-पूर्वी मध्य प्रदेश तक एक ट्रफ रेखा बनी है. मध्य भारत में विदर्भ और इससे सटे हिस्सों पर एक सर्कुलेशन बना हुआ है. इस सिस्टम से कोमोरिन तक एक ट्रफ रेखा बनी है.

पिछले 24 घंटों में कैसा रहा मौसम

पिछले 24 घंटों के दौरान ओडिशा में कुछ स्थानों पर भारी से अति भारी बारिश दर्ज की गई. पूर्वोत्तर राज्यों में भी व्यापक रूप से वर्षा और बादलों की गर्जना तथा तेज़ हवाएँ चलने की घटनाएं देखने को मिलीं. पश्चिम बंगाल, सिक्किम, बिहार के पूर्वी भागों, तटीय कर्नाटक, रायलसीमा के कुछ हिस्सों, दक्षिणी आंतरिक कर्नाटक, केरल, उत्तर और पूर्वी राजस्थान और छत्तीसगढ़ में हल्की से मध्यम बारिश हुई. मध्य प्रदेश के उत्तरी और पूर्वी हिस्सों तथा उत्तर प्रदेश के पूर्वी एवं मध्य हिस्सों में हल्की बारिश हुई.झारखंड और अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह में एक-दो स्थानों पर हल्की बारिश हुई.

आने वाले 24 घंटों का मौसमी पूर्वानुमान

आने वाले 24 घंटों के दौरान उत्तरी और तटीय ओडिशा, गंगीय पश्चिम बंगाल, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा के कुछ हिस्सों में मध्यम से भारी बारिश जारी रहने का अनुमान है. पूर्वोत्तर भारत, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, झारखंड, आंतरिक तमिलनाडु, केरल, दक्षिणी कर्नाटक, तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, उत्तराखंड के कुछ हिस्सों और उत्तर प्रदेश के मध्य भागों में कुछ स्थानों पर प्री-मॉनसून वर्षा हो सकती है.हरियाणा और दिल्ली में भी छिटपुट जगहों पर वर्षा और आंधी के आसार हैं. उत्तर व पूर्वी राजस्थान के कुछ हिस्सों में धूल भरी आंधी और बारिश संभव है.

English Summary: Chances of rain and thunderstorm in these states including Haryana, Rajasthan and Delhi! Published on: 26 April 2020, 01:13 IST

Like this article?

Hey! I am मनीशा शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News