1. ग्रामीण उद्योग

Swadeshi Business Ideas: कमाना चाहते हैं लाखों रुपए, तो इन 2 स्वदेशी बिज़नेस को शुरू करें

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य

देश को आत्मनिर्भर बनाने पर लगातार जोर दिया जा रहा है. अब अधिकतर लोग स्वदेशी उत्पादों की ओर रूख भी कर रहे हैं. अगर आप भी कोई नया  बिजनेस करने की सोच रहे हैं, तो आप अपने ही देश में रहकर स्वदेशी बिजनेस शुरू कर सकते हैं. इस तरह आप और देश, दोनों ही आत्मनिर्भर बन पाएंगे. अगर आपको स्वदेशी बिजनेस करना हैं, तो हम आपके लिए 2 स्वदेशी बिजनेस आइडिया  (Swadeshi Business Ideas) बताने जा रहे हैं. इन बिजनेस को शुरू करके आप लाखों रुपए का मुनाफ़ा कमा सकते हैं, तो आइए आपको इन बिजनेस संबंधी जानकारी देते हैं.

मगर उससे पहले बता दें कि जिस उत्पाद को अपने देश में बनाया और बेचा जाता है, उसे स्वदेशी बिजनेस कहा जाता है. आज के समय में कई कंपनियां स्वेदशी उत्पादों का निर्माण कर रही हैं. इससे उन्हें अच्छा मुनाफ़ा भी मिल रहा है. ऐसे में अगर आप भी स्वदेशी उत्पाद बनाने का बिजनेस शुरू करते हैं, तो यह आपके लिए बहुत लाभकारी साबित हो सकता है.

फ्रूट जैम और जूस बनाने का बिजनेस (Fruit jam and juice making business)

आपको इस स्वदेशी बिजनेस में फलों द्वारा कई तरह के जैम और जूस बनाने का काम करना होगा. इस बिजनेस से कई कंपनियां काफी पैसा कमा रही हैं. जैसे पतंजलि, इंडाना, प्रिय, रसना, फ्रूटी आदि. आप भी जैम, जूस, और कोल्डड्रिंक बनाकर पैसा कमा सकते हैं. आप इस बिजनेस से लाखों रुपए की कमाई आसानी से कमा सकते हैं.

स्वदेशी टूथपेस्ट बनाने का बिजनेस (Indigenous toothpaste making business)

आप आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों द्वारा स्वेदशी टूथपेस्ट बनाने का बिजनेस कर सकते हैं. इसके लिए  आपको जड़ी-बूटियों की अच्छी समझ होना चाहिए. आजकल कई लोग आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों से बने टूथपेस्ट का इस्तेमाल कर रहे हैं, इसलिए बाजार में भी इसकी मांग काफी बढ़ गई है. आपको यह बिजनेस लाखों रुपए की कमाई दे सकता है. बता दें कि देश में कई स्वदेशी कंपनियां टूथपेस्ट बनाने का काम करती हैं. इसमें पतंजलि, डाबर, विक्को, विको बज्रादंती आदि का नाम शमिल है. अगर आप भी स्वदेशी टूथपेस्ट बनाने का काम करते हैं, तो आप हर महीने लाखों की कमाई कर सकते हैं.

English Summary: Swadeshi Business Ideas, which will earn millions of rupees

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News