1. ग्रामीण उद्योग

Small Business Ideas: कम लागत में शुरू करें ये 2 छोटे बिजनेस, सरकार देगी लोन और सब्सिडी

अगर आप काफी समय से अपना व्यवसाय शुरू करने की सोच रहे हैं लेकिन पैसे के कमी की वजह से रुके हुए हैं, तो यह लेख आपकी निश्चित रूप से बहुत मदद कर सकता है. बस आपको केवल 2 से 3 लाख रुपए का छोटा निवेश करने होगा. यह व्यवसाय आपके लिए  खूब मुनाफेदार साबित होंगे. इसके लिए आप मोदी सरकार की मुद्रा योजना का भी लाभ उठा सकते है.  सरकार खुद का बिजनेस शुरू करने के लिए  छोटे कारोबारियों को 75 से 80 फीसद तक लोन प्रदान करती है. तो आइए जानते हैं इन व्यवसायों के बारे में विस्तार रूप से....

पापड़ मैन्युफैक्चरिंग यूनिट (Papad Manufacturing Business)

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत आप पापड़ बनाने का व्यवसाय शुरू कर सकते हैं. इसमें आपका शुरुआती निवेश 2.05 लाख रुपए तक हो सकता है.सरकार द्वारा पापड़ यूनिट खोलने के लिए 8.18 लाख रुपए तक का लोन मिल सकता है. इसके अलावा आपको सरकार की तरफ आंत्रप्रिन्योनर सपोर्ट स्कीम (Entreprenure Support Scheme) के तहत 1.91 लाख रुपए की सब्सिडी भी प्राप्त होगी.

Read more:

करी एंड राइस पाउडर का बिजनेस (Curry and Rice Powder Business)

देश में करी व राइस पाउडर की मांग समय के साथ -साथ बढ़ती जा रही है. ऐसे में यह बिजनेस आपके लिए काफी ज्यादा फायदेमंद हो सकता है.इसमें आपका शुरुआती निवेश 1.66 लाख रुपए तक हो सकता है. इस पर आप मुद्रा योजना के तहत बैंक से 3.32 लाख रुपए का टर्म लोन और 1.68 लाख रुपए का वर्किंग कैपिटल लोन मिल जाएगा. इस व्यवसाय को शुरू करने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि इसके लिए आपको किसी भी प्रकार के अनुभव की जरूरत नहीं पड़ेगी.

मुद्रा लोन कैसे प्राप्त करें

यह लोन आपको किसी भी राष्ट्रीयकृत या फिर प्राइवेट बैंक से मिल जाएगा. इस लोन की यह खासियत है कि यह लोन दूसरे लोन के मुकाबले 1 से 2 फीसद तक सस्ता मिलता है.

Read more:

English Summary: Small Business Ideas: Start these 2 small businesses at a low cost, the government will provide loans and subsidy

Like this article?

Hey! I am मनीशा शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News