1. विविध

नोपल का जादुई पौधा बंजर जमीन को बनाएं खूबसूरत, उत्पादन पर टिकी है इस देश की अर्थव्यवस्था

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य

मेक्सिको के रेगिस्तान में बायोफ्यूल बनाने वाला हरा सोना उगता है, जो बंजर जमीन को खूबसूरत बना देता है. इसको एक जादुई पौधा कहा जाता है. यह पौधा मेक्सिको के मेसोअमेरिकन क्षेत्र में पाया जाता है, जिसका नाम नोपल है. इस पौधे के फल का उपयोग सलाद के रूप में किया जाता है, साथ ही चिप्स और लजीज शेक बनाकर भी पिया जाता है. खास बात है कि यह पौधा जलवायु परिवर्तन से लड़ने में भी मदद करता है, इसलिए इसको मेक्सिको का मैजिकल प्लांट कहा जाता है.

क्या है नोपल

यह एक कांटेदार नाशपाती जैसा फल होता है, जो कि मेक्सिको के रेगिस्तानों में नागफनी के साथ उगता है. इसकी खेती मेक्सिको में केमेम्ब्रो नाम का आदिवासी समुदाय करता है. इस फल का उपयोग जैव-ईंधन में भी तैयार किया जाता है. खासियत है कि इस फल को मेक्सिको के राष्ट्रीय ध्वज पर एक खास स्थान मिला है.

नोपल की खेती

इसकी खेती मकई की खेती की तुलना में काफी बड़े स्तर पर होती है. बता दें कि कम उपजाऊ वाली जमीन पर भी प्रति हेक्टेयर 300-400 टन नोपल उगाया जा सकता है, तो वहीं उपजाऊ वाली जमीन पर 800-1000 टन तक उपज प्राप्त की जा सकती है. इसकी खेती में पानी की खपत बहुत कम होती है.  

पर्यावरण के लिए है लाभकारी

इस फल को स्थानीय स्तर पर कई काम के लिए उपयोग किया जाता है. मगर सबसे बड़ी खास बात है कि नोपल की खेती पर्यावरण के लिए बहुत लाभकारी साबित है. कई जानकारों का मानना है कि नोपल जैविक-ईंधन का अच्छा विकल्प है.

अर्थव्यवस्था का बड़ा हिस्सा

कई शोध में बताया गया है नोपल से अभी तक जितने उत्पाद तैयार किए जा रहे हैं, वह अर्थव्यवस्था का एक बड़ा हिस्सा हैं. मगर इस पौधे का उपयोग किस-किस प्रकार से होता है, इस पर शोध जारी है. इसकी खेती की बहुत फायदे का सौदा नहीं है, लेकिन मेक्सिको में जिस पैमाने पर नोपल से तेल निकाला जाता है उससे साबित होता है नोपल अर्थव्यवस्था का बड़ा हिस्सा बन चुका है.

ये खबर भी पढ़ें: कैरोलिना रीपर है दुनिया की सबसे तीखी मिर्च, गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज है नाम

English Summary: The magical plant of Nopal is very useful

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News