Others

अंडा में पाये जाने वाले प्रोटीन की मात्रा और स्वास्थ्य लाभ

egg protein content

अवश्य ही आप अपने परिवार के लिये एक पौष्टिक आहार की खोज में होंगे. और हो सकता है कि आपको परिवार के लिये पर्याप्त दूध तथा मांस उपलब्ध न हो. अतः आप दैनिक आहार में अनाज तथा थोड़ी सब्जी का उपयोग ही कर पाते हो जिससे आपको तथा आपके परिवार को पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन, खनिज तथा विटामिन प्राप्त नहीं हो पाते. यह पदार्थ आपके भोजन के लिये परम आवश्यक है अतः आपको स्वस्थ रहने के लिये इन पदार्थों की पूर्ण मात्रा किसी न किसी रूप में प्राप्त करनी ही होगी.

अंडा एक पूर्ण आहार

अंडा आपके लिये एक पूर्ण आहार है. दूध तथा मांस की भांति इससे प्रोटीन बहुत बड़ी मात्रा में प्राप्त होती है, इससे चर्बी तथा खनिज भी काफी मात्रा में प्राप्त होते हैं. इनके अतिरिक्त अंडे  से शरीर को वह सभी पोषक तत्व प्राप्त हो जाते हैं जिनसे शारीरिक वृद्धि होती है. इसमें 2 भाग खोल 58 भाग सफेदी और शेष जर्दी (योक) होती है. खोल में अधिकतर कैल्शियम कार्बोनेट होता है, सफेदी में पानी और प्रोटीन होते हैं, इसके साथ-साथ इसमें चर्बी भी होती है.

आपका शरीर अंडे  से प्रोटीन का पूर्ण उपयोग कर लेता है सारणी 1.1 “एमिनों अम्लों” वर्ग के सभी तत्व इसमें होते हैं. यह तत्व आपकी बढ़ोतरी, तन्तुओं की मरम्मत और शरीर के अन्य कार्यों के लिये आवश्यक होते हैं. अंडे  की चर्बी से आपकी पाचक शक्ति के बिगड़ने का कोई भय नहीं होता. यह बड़ी स्वास्थ्य प्रद होती है तथा छोटे - छोटे बच्चे भी इसे सरलता से पचा लेते हैं. अंडे  में वसीय अम्ल काफी मात्रा में पाये जाते हैं तथा इससे विशेष रूप से, विटामिन ए., बी. तथा डी. भी अच्छी मात्रा में प्राप्त हो जाते हैं. इसके अतिरिक्त शरीर के लिये आवश्यक तत्व लोहा, कैल्शियम, फास्फोरस और अन्य खनिज पदार्थ इत्यादि, भी इससे पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हो जाते हैं.

egg protein

सभी आयु के व्यक्तियों के लिये उपर्युक्त - अंडा छोटे और बड़े सबके लिए एक सर्वोत्तम आहार है. विशेषकर स्त्रियां के लिये गर्भावस्था में और प्रसव के बाद और शिशुओं के लिये यह बहुत अच्छा होता है. यदि बढ़ते हुये बच्चे को पाँच - छः अंडे  प्रति सप्ताह खिलायें जायें तो उसे रक्त की कमी, सूखा, कमजोरी, रतौंध, आदि रोग नहीं होते. पोषक आहार विशेषज्ञों के अनुसार प्रत्येक युवा व्यक्ति को प्रतिदिन एक अंडा खाना चाहिये.

अंडा प्राप्त करना सरल है - लेवल कुछ ही मुर्गियाँ रखकर अंडे  को सरलता से प्राप्त किये जा सकते हैं.

अंडा कैसे भी खाइये - अंडे की कच्चा, तलकर, उबालकर या सब्जी के रूप में खाया जा सकता है. इसको अन्य आहारों जैसे केक, पेस्ट्री, आइसक्रीम, आदि में मिलाकर भी खाते हैं अन्य पकवानों को स्वादिष्ट बनाने के लिये भी इसका प्रयोग किया जा सकता है. परन्तु निश्चित रूप से अंडे  को कच्चा नहीं खाना चाहिये चूंकि अंडे की प्रोटीन में एरेडिन पाई जाती है जो कि बायोटिन से संयुक्त होकर इसकी उपलब्धी रोक देती है, किन्तु इसके लिये मनुष्य को एक दिन में 8 से 10 कच्चे अंडे  खाने होंगे. सौभाग्य से एरेडिन गर्म करने से समाप्त हो जाती है. दूध तथा अंडे  के पोषक मानों की तुलना करने से यह भी सिद्ध हो जाता है कि अंडे  का पोषक मान अधिक हैं.

यदि हम अंडे से प्राप्त होने वाली प्रोटीन की खाद्य गुणों की तुलना अन्य सामान्य व्यवहारों से करें तो हम देखेंगे कि यह सबसे उत्तम है. यह तथ्य सारणी 1.3 से पूर्ण रूप से स्पष्ट हो जाता है.

यदि हम अंडे से प्राप्त होने वाली प्रोटीन की खाद्य गुणों की तुलना अन्य सामान्य व्यवहारों से करें तो हम देखेंगे कि यह सबसे उत्तम है. यह तथ्य सारणी 1.3 से पूर्ण रूप से स्पष्ट हो जाता है.

कल्पना यादव सरिता (पौध व्याधिकी विभाग)

बरखा रानी (मृदा विज्ञान विभाग)

राजस्थान कृषि महाविद्यालय उदयपुर



English Summary: Egg protein content and health benefits

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in