1. ख़बरें

जानिए किन किसानों के लिए कौन सा ट्रैक्टर है बेहतर

भारत में खेती करने वाले ज्यादातर किसान मुख्य रुप से मध्यम वर्ग से आते हैं. इन किसानों के सामने बेहतर ट्रैक्टर का विकल्प हमेशा बना रहता है. इन किसानों के दिमाग में यह बात हमेशा बनी रहती है कि कितने एचपी की ट्रैक्टर औऱ कौन सी ट्रैक्टर खरीदें. वहीं इस लेख में हम छोटे व बड़े सभी तरह के किसानों के लिए जानकारी देंगे. इस लेख में सभी तरह के जानकारी दी जाएगी की ट्रैक्टर खरीदते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए और किस तरह से इनका उचित उपयोग किया जा सकता है.

सबसे पहले हम बात करते हैं ऐसे किसानों कि जिनके पास लगभग 5 से 10 एकड़ जमीन है. ऐसे किसानों को कम से कम 35 से 40 HP का ट्रैक्टर खरीदने चाहिए. वहीं किसानों द्वारा पूरे साल में सिर्फ दो मौसम में ही काम किया जाता है इसलिए वो इसे अपने घर पर ही खड़ा कर देते हैं. आइए इसकी जानकारी भी देते हैं कि कैसे ऑफसीजन में ट्रैक्टर से अन्य काम करके कैसे लाभ कमाया जा सकता है. ग्रामीण क्षेत्रों में आटे का चक्की बहुत कम होता है, इस तरह से ट्रैक्टर के पीछे चक्की सेट करके गांव-गांव में जाकर गेहूं की पिसाई कर सकते हैं. इसमें आपकी कमाई के साथ गांव में रह रहे लोगों को भी कुछ हद तक फायदा होगा. उसी प्रकार घास और बाजरा के पेड़ो से भूसा बनाने की मशीन कुट्टा को ट्रैक्टर में उपयोग किया जा सकता है. इससे किसानों को भूसा बनवाने में मदद मिलेगा. ध्यान देने वाली बात यह है कि इस मशीन को चलाने के लिए 40 एचपी का ट्रैक्टर होना जरूरी है.

अब बात करते हैं मध्यम वर्ग के किसानों के लिए उपयोग होने वाले ट्रैक्टर की. मध्यम वर्ग के किसान ट्रैक्टर्स को ट्रैक्टर सूपा जिससे खेतों को समतल बनाया जाता है सड़क पर इस्तेमाल, लाइट के खम्भे जमीन में खोद कर खड़े करना जिसे ट्रैक्टर के साथ हाइड्रोलिक लगवा सकते हैं. इस तरह के कामों के लिए कम से कम 50 से 55 एचपी के ट्रैक्टर का होना आवश्यक है.अब जानते हैं कि बड़े किसानों को किस तरह के ट्रैक्टर्स की जरूरत होती है. ऐसे किसान ट्रैक्टर्स को खेती के साथ-साथ अपने अन्य कामों में भी इस्तेमाल करते हैं. खेतों में खुदाई करके इसे एक जगह इकट्ठा करना, देसी खाद ट्रॉली में भरना, वहीं मजदूरों की कमी होने के कारण कई तरह के काम को हाइड्रोलिक सिस्टम से आसानी से किया जाता है. वहीं ज्यादा हेवी इंप्लिमेंट्स को ट्रैक्टर में लगाने के लिए 60-70 एचपी के ट्रैक्टर्स का प्रयोग किया जाएगा.बता दें कि देश में कई सारे ट्रैक्टर्स कंपनी किसानों के लिए उनके कार्यों के अनुसार ट्रैक्टर्स को बनाती है तो आप उन कंपनी की शोरूम में जाकर भी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

English Summary: Which tractor farmers should buy according to their use.

Like this article?

Hey! I am आदित्य शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News