MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. ख़बरें

बारिश के साथ ओलावृष्टि से बर्बाद फसलों का मिलेगा मुआवजा, पढ़िए पूरी खबर

देश में ओलावृष्टी किसानों के लिए एक काफी बड़ी समस्या मानी जाती है. हर साल किसानों की कई एकड़ फसल ओलावृष्टि की वजह से नष्ट हो जाती है. इसके कारण किसानों को काफी नुकसान का सामना करना पड़ता है.

स्वाति राव
Agriculture
Agriculture

देश में ओलावृष्टी किसानों के लिए एक काफी बड़ी समस्या मानी जाती है. हर साल किसानों की कई एकड़ फसल ओलावृष्टि की वजह से नष्ट हो जाती है. इसके कारण किसानों को काफी नुकसान का सामना करना पड़ता है. ऐसा ही कुछ नजारा उत्तर प्रदेश में देखने को मिला है. जहाँ बारिश और ओले गिरने से किसानों की फसलें बर्बाद हो गयी हैं.

अब राज्य के किसान इस नुकसान की भरपाई के लिए परेशान हो रहे हैं. मगर किसानों की चिंता देख उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने फसलों को हुए नुकसान की भरपाई करने का निर्णय लिया है.

दरअसल, राज्य सरकार ने किसानों को हुए नुकसान के लिए उनकी मदद करने हेतु एक अहम कदम उठाया है. इसके लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि ओलावृष्टि से प्रभावित जिलों में राहत कार्य संचालित किए जाएं. इसके साथ ही किसानों को हुए नुकसान का आकलन किया जाए और तत्काल भरपाई कराई जाए. इसके अलावा रिपोर्ट को जल्द से आंकलन कर उपलब्ध कराया जाए.

इतना ही नहीं, राज्य सरकार ने प्रभावित जिले के लिए आदेश दिया है कि जिस भी किसान की फसल खराब हुई हैं, उसे जल्द से जल्द नियमानुसार मुआवजा दिया जाए. राजस्व और कृषि विभाग आपस में समन्वय बनाकर इस काम को प्राथमिकता से पूरा करें. बता दें कि राज्य सरकार बारिश प्रभावित क्षेत्रों में सभी आवश्यक राहत और पुनर्वास के उपाय कर रही है. जिन किसानों की कृषि उपज बाढ़ से क्षतिग्रस्त हुई है, उन्हें मुआवजे की राशि प्रदान की जाएगी.

इस खबर को पढें - 80% सब्सिडी पर लगवाएं खेत में एंटी हेल नेट, कोहरा, ओलावृष्टि और कीट पतंगों से बचेगी फसल

उत्तर प्रदेश के इन इलाकों में हुई ओलावृष्टि (Hail Rain In These Areas Of Uttar Pradesh)

यूपी के अधिकतर जिलों में चार दिनों से लगातार बारिश हो रही है, लेकिन शनिवार और रविवार को ओलावृष्टि ने मुसीबत और बढ़ा दी. बुंदेलखंड के एक बड़े हिस्से में ओले गिरे हैं. बांदा की पैलानी तहसील में खप्तिहान कलां, खरेई, अलोना, बबिया, बरेठी, भंडोली, छिरहुत, गुगोली, दातरोली समेत 30 गांवों में भारी ओलावृष्टि हुई है. इससे वहां सरसों, चना, मटर, मसूर की फसल को नुकसान पहुंचा है.

किसानों का क्या कहना है? (What do the farmers have to say?)

राज्य के किसानों ने बताया कि 50 से 100 ग्राम तक ओले पड़े थे. अतर्रा, ओरान और बबेरू तहसील के करीब 150 गांवों में बारिश और ओलावृष्टि से फसल को भारी नुकसान हुआ है. इसके साथ ही महोबा और झांसी के करीब 290 गांवों में ओलावृष्टि से सारी फसल जमीन पर बिखर गई है. तो वहीं पश्चिमी यूपी के कई जिलों में भी ऐसा ही हाल देखने को मिला है.

English Summary: the aspirations of the farmers were shattered by the hailstorm with the rain, the state government will give compensation Published on: 11 January 2022, 02:37 PM IST

Like this article?

Hey! I am स्वाति राव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News