MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. ख़बरें

Electric Vehicles के लिए सुजुकी ने किया 10 करोड़ से अधिक का निवेश, जानें कैसे मिलेगी आपको इसकी सुविधा

इलेक्ट्रिक वाहनों को लेकर जिस तरह से देश-विदेशों में इस पर ज़ोर दिया जा रहा है, वो काफी उल्लेखनीय है. ऐसे में जापानी वाहन निर्माता सुजुकी ने भारत में बैटरी इलेक्टिक वाहनों की दस्तक के लिए एक ज़बरदस्त फैसला लिया है.

रुक्मणी चौरसिया

इलेक्ट्रिक वाहनों (Electric Vehicles) को लेकर देश में लगातार ज़ोर दिया रहा है. यहां तक की केंद्रीय मंत्री नीतिन गडकरी (Cabinet Minister Nitin Gadkari) ने भी इवी को लेकर कई तरह की घोषणाएं की हैं. आने वाले समय में हम जितनी जल्दी इलेक्ट्रिक वाहनों को अपना लें, उतना ही हम सभी के भविष्य के लिए अच्छा होगा. इसी संदर्भ में सुजुकी (Suzuki) कंपनी ने एक बड़ा कदम उठाया है. 

इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए नयी पहल (New initiative for electric vehicles)

जापानी वाहन निर्माता सुजुकी मोटर कॉरपोरेशन (Suzuki Motor Corporation) ने 20 मार्च 2022 को कहा कि वह गुजरात में बैटरी इलेक्ट्रिक वाहनों (EV) और बीईवी बैटरी (BEV Battery) के स्थानीय विनिर्माण के लिए 2026 तक लगभग 150 बिलियन येन (लगभग 10,445 करोड़ रुपये) का निवेश करेगी. कंपनी ने इस संबंध में गुजरात सरकार के साथ एक समझौता ज्ञापन (MoU) पर हस्ताक्षर किए हैं.

सुजुकी मोटर कॉरपोरेशन  (Suzuki Motor Corporation) ने एक बयान में कहा कि "19 मार्च, 2022 को नई दिल्ली में आयोजित भारत-जापान आर्थिक मंच में जापानी प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा और भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उपस्थिति में हस्ताक्षर किए गए थे."

बनेगा आत्मनिर्भर भारत (India will become self-reliant)

फोरम में बोलते हुए, सुजुकी मोटर कॉरपोरेशन के प्रतिनिधि निदेशक और अध्यक्ष तोशीहिरो सुजुकी (Toshihiro Suzuki, Representative Director and President of Suzuki Motor Corporation) ने कहा की "सुजुकी का भविष्य का मिशन छोटी कारों के साथ कार्बन न्यूट्रैलिटी (Carbon Neutrality) हासिल करना है. हम आत्मनिर्भर भारत (Atmanirbhar Bharat) को साकार करने के लिए भारत में सक्रिय निवेश जारी रखेंगे."

यह भी पढ़ें: किसानों को Electric Tractor पर 25 फीसदी सब्सिडी मिलेगी, जल्द करें बुक

समझौता ज्ञापन के तहत, कंपनी की पूर्ण स्वामित्व वाली शाखा सुजुकी मोटर गुजरात प्राइवेट लिमिटेड (SMG) 2026 तक एसएमजी के मौजूदा संयंत्र के पास की भूमि पर बीईवी बैटरी के लिए एक संयंत्र के निर्माण (EV Plant) के लिए 7,300 करोड़ रुपये का निवेश करेगी. साथ ही, SMG 2025 तक बीईवी विनिर्माण के लिए उत्पादन क्षमता बढ़ाने के लिए 3,100 करोड़ रुपये का और निवेश करेगी.

इसके अलावा, समूह की एक अन्य फर्म मारुति सुजुकी टॉयोत्सु इंडिया प्राइवेट लिमिटेड (Maruti Suzuki Toyotsu India Pvt Ltd) 2025 तक वाहन रीसाइक्लिंग प्लांट के निर्माण पर 45 करोड़ रुपये का निवेश करेगी. वहीं नवंबर 2019 में, मारुति सुजुकी और टोयोटा त्सुशो समूह ने वाहन के निराकरण और पुनर्चक्रण के लिए एक संयुक्त उद्यम की घोषणा की और नोएडा, उत्तर प्रदेश में एक इकाई स्थापित की थी.

2025 तक होगा बदलाव (Change will happen by 2025)

एसएमसी की भारतीय इकाई Maruti Suzuki 2025 तक इलेक्ट्रिक वाहन खंड में प्रवेश करने की योजना बना रही है. इसके अतिरिक्त कंपनी ने कहा है कि मौजूदा कीमतों पर बड़े पैमाने पर किफायती ईवी बेचना मुश्किल होगा.

English Summary: Suzuki has invested more than 10 crores for electric vehicles Published on: 21 March 2022, 05:28 PM IST

Like this article?

Hey! I am रुक्मणी चौरसिया. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News