1. ख़बरें

PM Kisan Samman Nidhi Yojna: किसान ऐसा करेंगे तभी खाते में आएंगे 6000 रुपये, वरना पेमेंट हो सकती फेल!

श्याम दांगी
श्याम दांगी
Pm kisan

केंद्र सरकार प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के जरिये किसानों को सालाना आर्थिक मदद दे रही है. इस योजना के अंतर्गत किसानों को सालाना 6, 000 रुपये की मदद दी जाती है. किसानों के बैंक खाते में दो-दो हजार की तीन किश्तों में सरकार यह पैसा ट्रांसफर करती है. इस योजना के 20 महीने पूरे हो चुके हैं. इस दौरान तक़रीबन 46 लाख किसानों की पेमेंट फेल हो गई. इसकी वजह है आवेदक किसान के नाम की स्पेलिंग सही न होना, बैंक अकाउंट नंबर का आधार कार्ड से लिंक न होना आदि. ऐसे में हम आपको कुछ सावधानियां रखनी होगी ताकि आपकी पेमेंट ट्रांसफर होने में कोई परेशानी न आए -

इन राज्यों के किसानों ने की ग़लती

केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम 24 फरवरी 2019 को शुरू की थी. जो कि 01 दिसंबर 2018 से प्रभावित को गई थी. इस योजना का उद्देश्य देश के छोटे किसानों को आर्थिक मदद पहुंचाना है. पहली किस्त के दौरान सबसे ज्यादा किसानों की पेमेंट फेल हुई थी. लेकिन बाद में लोगों में जागरूकता बढ़ी और धीरे-धीरे यह संख्या कम होने लगी. केंद्रीय कृषि मंत्रालय के एक अधिकारी के मुताबिक, किसानों ने आवेदन फॉर्म भरते हुए नाम, मोबाइल नंबर और बैंक अकाउंट नंबर भरने में बड़ी ग़लती की. इस तरह की ग़लती करने वाले किसान सबसे ज्यादा महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और उत्तर प्रदेश से है. सूत्रों के अनुसार पहली किश्त ट्रांसफर करते समय 13,68,509 किसानों का भुगतान फेल हुआ था. वहीं दूसरी किस्त में 11,40,085, तीसरी किश्त में 8,53,721, चौथी किश्त में 10,51,525, पांचवीं किश्त में 31,774 और छठी किश्त में अब तक 1,68,183 किसानों के खातों में पैसा ट्रांसफर नहीं हो पाया. 

kisan

राज्य सरकार करती है वेरिफाई

इस योजना के तहत किसानों के खातों में पेमेंट ऑटोमेटिक सिस्टम से होती है. ऐसे में कोई भी जानकारी सही नहीं होने पर वह उसे रिजेक्ट कर देता है. वैसे तो पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम 100 फीसदी केंद्र सरकार फंडेड है. लेकिन किसानों की राजस्व सम्बंधित जानकारी राज्य सरकार के पास होती है. ऐसे में केंद्र सरकार को राज्य सरकार ही किसानों का डेटा वेरिफाई करके भेजती है. तभी किसानों के खाते में योजना का पैसा ट्रांसफर होता है.

पेमेंट फेल होने की बड़ी वजह

-किसानों का बैंक खाता अमान्य होने पर अस्थायी रोक लगा दी जाती है.

-बैंक अकाउंट नंबर की गलत जानकारी देना. 

-जिस बैंक में खाता है उस बैंक का पीएफएमएस यानी सार्वजनिक वित्त प्रबंधन प्रणाली में रजिस्टर्ड नहीं होना.

- नेशनल पेमेंट कारपोरेशन ऑफ इंडिया में आधार कार्ड का सीडिंग नहीं होना. 

कैसे सुधार करें

इस भूल को सुधार करने के लिए सबसे पहले पीएम किसान योजना की ऑफिशियल वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/  पर जाएं. यहां फार्मर कॉर्नर के अंदर जाकर Edit Aadhaar Details ऑप्शन पर क्लिक करें. इसके बाद अपना आधार नंबर डालकर कैप्चा कोड फील करें. यदि यहां आपका नाम गलत है यानी फॉर्म और आधार कार्ड में आवेदक का नाम अलग है तो आप इसे ऑनलाइन ठीक कर सकते हैं. लेकिन अन्य कोई गलती है तो इसके लिए आपको बैंक, लेखपाल या कृषि विभाग में संपर्क करना पड़ेगा. 

English Summary: pm-kisan-samman-nidhi-scheme-if-farmers-doing-this-work-than-get-6000-rupees-in-your-account-otherwise-payment-failed

Like this article?

Hey! I am श्याम दांगी. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News