किसान के घर में आराम से बैठी रही बाघिन, परिजन सोते रहे

यूपी के पीलीभीत जिले में विधिपुर इलाके के भोले राम किसान जब अपने चार बेटों और एक बेटी के साथ खेत पर काम करने के बाद रात को सो रहे थे तो उन्होंने पाया कि परिवार के अलावा और भी कोई उनके घर में सोया हुआ था। रात करीब एक बजे के बाद दहाड़ सुनकर वे उठकर बैठ गए। उनके घर में एक बाघिन आराम से बैठी हुई थी।

बाघिन की उम्र लगभग 3 साल बताई जा रही है। माना जा रहा है कि भोले राम के घर में जाने के लिए एक खुला रास्ता था जहां वह तीन किलोमीटर दूर स्थित पीलीभीत टाइगर रिजर्व से भटकते हुए आ गई थी। उसे देखकर घरवाले डरकर बाहर भागे। उन्होंने पड़ोसियों को सूचना दी जिन्होंने एसपी और वन संरक्षक को बताया। वन संरक्षक (बरेली सर्कल) वीके सिंह ने बताया कि बाघिन को पंडारी और बकैनिया गांव के पास देखा गया था। उसका पता लगाने के लिए रविवार को दो हाथियों को भेजा गया था लेकिन वह बच निकली।

भोले राम के घर पहुंची टीम ने बाघिन को किसी तरह घर से बाहर निकाला और फिर जाल डालकर पकड़ लिया गया। बाघिन पाए जाने से आसपास के लोग अभी भी दहशत में हैं। इससे पहले खेत पर काम करके लौट रहे ग्राम दियोहना पिपरिया निवासी राम औतार पर बाघ ने अचानक हमला कर उन्हें गंभीर रूप से घायल कर दिया था। इसके अलावा, पहले भी 20 लोग बाघ के हमले का शिकार हो चुके हैं। 

साभारः नवभारत टाइम्स

Comments