1. ख़बरें

कृषि जागरण ने संपादकीय टीम के लिए खोला नया ऑफिस

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
Krishi Jagran

Krishi Jagran

पिछले 25 सालों से कृषि जागरण निर्बाध रूप से भारतीय किसानों की आवाज बना हुआ है. इसके लिए कृषि जागरण हमेशा कोई न कोई अनूठी पहल करता रहता है. हमेशा से कृषि जागरण का मुख्य उद्देश्य यही रहा है कि देश के सभी किसानों तक कृषि से जुड़ीं सभी खबरें सही समय पर पहुंच सके और वे समृद्ध बनें. अब इसी क्रम में कृषि जागरण ने एक नई पहल की है.   

दरअसल, कृषि जागरण को और सशक्त बनाने में जिसकी अहम भूमिका रही है, वो कृषि जागरण में कार्य करने वाली पूरी टीम है. कृषि जागरण के ऑफिस में संपादकीय (प्रिंट और डिजिटल), मार्केटिंग और सर्कुलेशन डिपार्टमेन्ट से जुड़े लोग पूरी लगन के साथ कार्य करते हैं. इनकी लगन और मेहनत का ही नतीजा है, जो देश के सभी किसानों तक खेतीबाड़ी से संबंधित हर छोटी-बड़ी जानकारी समय पर पहुंचाती है. अब किसानों तक जल्द से जल्द जानकारी पहुंचाने के अलावा, कृषि जागरण को और सशक्त बनाने के लिए एक अहम पहल की गई है, वो कृषि जागरण का नया ऑफिस है.

जी हां, कृषि जागरण और एग्रीकल्चर वर्ल्ड के प्रधान संपादक एम.सी. डॉमिनिक और निदेशक श्रीमती शाइनी डोमिनिक द्वारा संपादकीय टीम के लिए एक नया ऑफिस तैयार कराया गया है. इस नए ऑफिस का उद्घाटन 2 जुलाई 2021 को होगा. इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राष्ट्रीय बीज निगम लिमिटेड, सीएमडी, विनोद कुमार गौड़ रहेंगे. इसके अलावा, कृषि जागरण और एग्रीकल्चर वर्ल्ड के प्रधान संपादक एम.सी. डॉमिनिक, निदेशक श्रीमती शाइनी डोमिनिक समेत पूरी टीम शामिल होगी.

एम.सी. डॉमिनिक का कहना है कि संपादक अपने लेखों में युगबोध को जाग्रत करने वाले विचारों को प्रकट करता है. इसके साथ ही समाज की विभिन्न बातों पर ध्यान आकर्षित करता है. ऐसे में संपादकीय टीम को एक ऐसे वातावरण की जरूरत होती है, जहां वह शांतिपूर्ण और व्यवस्थित ढंग से लेख लिख पाएं.

बस इसी के लिए संपादकीय टीम को नए ऑफिस का एक खास तोहफा दिया है. इस नए ऑफिस में पूरी संपादकीय टीम बैठेगी. जोकि देश के सभी किसानों तक कृषि संबंधी नई तकनीक और जानकारी पहुंचाएगी.

English Summary: krishi jagran opens new office for editorial team

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News