1. ख़बरें

फसल बीमा योजना योजना बनी कॉरपोरेट सेक्टर के लिए फायदे का सौदा, जानिए कैसे?

सचिन कुमार
सचिन कुमार

Crop Insurance Scheme

यूं तो किसानों के हित में केंद्र की मोदी सरकार ने बेशुमार योजनाएं शुरू की है, लेकिन शायद आपको इस बात के बारे में जानकारी न हो कि किसानों के हित में शुरू की गई ‘फसल बीमा योजना’ किसानों के साथ-साथ कॉरपोरेट सेक्टर के लिए भी फायदे का सौदा साबित हो रही है. इस लेख के जरिए हम आपको उन आंकड़ों से रूबरू कराएंगे, जो इस बात की तस्दीक करने के लिए पर्याप्त हैं कि केंद्र सरकार की फसल बीमा योजना का फायदा किसानों के साथ-साथ कॉरपोरेट सेक्टर को भी हो रहा है.

एक आंकड़े के मुताबिक, केंद्र सरकार की प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से कॉरपोरेट सेक्टर को 50 से 70 फीसद का मुनाफा प्राप्त हुआ है. यह योजना साल 2016 में केंद्र सरकार ने किसानों की फसल को होने होने वाले नुकसान की क्षतिपूर्ति करने हेतु शुरू की गई थी, लेकिन इससे किसानों को तो फायदा हुआ ही है, लेकिन इसके साथ-साथ निजी इंश्योरेंस कंपनियों को भी फायदा पहुंचा है. वर्तमान में यह योजना 13 प्राइवेट सेक्टर निजी कंपनियों द्वारा संचालित की जा रही है, जिसमें एग्रीकल्चर इंश्योरेंस  कंपनी ऑफ इंडिया समेत कई ऐसी कंपनियां शामिल हैं, जो अच्छा मुनाफा अर्जित कर रही हैं. 

जरा डालिए इन आंकड़ों पर नजर

वहीं, प्राप्त जानकारी के मुताबिक, वित्तीय वर्ष 2016 से 2020 के दौरान एग्रीकल्चर इंडिया कंपनी ने 26 हजार 874 रूपए भुगतान किए, जिसमें से ग्रोस प्रमियम के रूप में 32 हजार 429 करोड़ रूपए प्राप्त हुए. उधर, यूनाइटेड इंश्योरेंस  कंपनी का लाभ तकरीबन 491 करोड़ रहा है. इसके अलावा, 4,455 रूपए भी लाभ के रूप में प्राप्त किए गए, जिसमें से 4,462 करोड़ रूपए लाभ के रूप में प्राप्त किए गए. ठीक इसी तरह से नेशनल इंश्योरेंस  कंपनी ने 70 करोड़ रूपए लाभ अर्जित किए. इसके अलावा, 2,514 करोड़ रूपए क्लेम के रूप में भुगतान किया गया, जिसमें से 2,574 रूपए ग्रोस प्रमियम के रूप में प्राप्त किए गए. 

वहीं दो सार्वजनिक कंपनियों को नुकसान का सामना करना पड़ा, जिसमें से न्यू इंडिया इंश्योरेंस  कंपनी को 5 हजार 114 करोड़ रूपए भुगतान करने पड़े. ओरिएंटल इंश्योरेंस  कंपनी लिमिटेड ने 3,893.17 करोड़ रुपये का सकल प्रीमियम एकत्र किया, लेकिन कुल 4,305.66 करोड़ रुपये के बीमा दावों का भुगतान किया.

रॉयल सुंदरम जनरल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड ने 2017-20 की अवधि के लिए 1,157.82 करोड़ रुपये का सकल प्रीमियम के रूप में एकत्र किया गया और 307.36 करोड़ रुपये के बीमा दावों का भुगतान किया. लगभग 74% का भारी लाभ मार्जिन! भारती एक्सा जनरल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड ने 2017-20 की समयावधि में 1,575.42 करोड़ रुपये का सकल प्रीमियम एकत्र किया है, जिसके दौरान उसने बीमा दावों के लिए 438.80 करोड़ रुपये का भुगतान किया है, जिससे लगभग 72% का लाभ मार्जिन बना हुआ है.

इस प्रक्रिया के तहत इंश्योरेंस कंपनियां फसल बीमा योजना का लाभ किसानों तक पहुंचाने की दिशा में काम कर रही हैं. इस योजना का हमारे किसान भाई बड़े स्तर पर फायदा उठा रहे हैं, लेकिन इसका लाभ हमारे किसान भाइयों तक पहुंचे इस दिशा में इंश्योरेंस कंपनियों की भूमिका बहुत अहम होती है.

English Summary: Important information about crop insurance scheme

Like this article?

Hey! I am सचिन कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News