News

दस लाख टन चीनी का आयात हो सकता है

भारतीय चीनी मिल संघ इस्मा ने चिंता व्यक्त करते हुए कहा है की उपग्रहीय तस्वीरों के आधार पर देश में हो रही गन्ने की खेती के आंकड़ों के अनुसार 2016-17 के चीनी सत्र में लगभग 233.70 लाख टन चीनी उत्पादन का अनुमान किया जा रहा है चीनी मिल संघ की रिपोर्ट के अनुसार संघ ने 2016-17 चीनी सत्र के अनुमानित चीनी उत्पादन का आंकड़ा जारी किया है। उत्तर प्रदेश में गन्ने की खेती लगभग पिछले वर्ष के समान 23.10 लाख हेक्टेयर में की गई है। मुख्य रूप से महाराष्ट्र और कर्नाटक में गन्ने के उत्पादन में भरी कमी देखी जा रही है इस राज्य में चीनी सत्र 2016-17 के दौरान लगभग 76.60 लाख चीनी उत्पादन का अनुमान है जो गत चीनी सत्र में 68.40 लाख टन रहा था। इस साल अगस्त तक चीनी मिलों ने 226.50 लाख टन चीनी की आपूर्ति की है, पिछले साल चीनी सत्र में यह आंकडां 236 लाख टन था। भारत 2016-17 में 10 लाख टन चीनी का आयात कर सकता है। इसकी वजह यह है कि देश में चीनी की खपत आपूर्ति से अधिक हो सकती है।



Share your comments