1. ख़बरें

अगर डीलर राशन देने से कर रहा है मना, तो इस नंबर पर करें फोन, फौरन होगी कार्रवाई

सचिन कुमार
सचिन कुमार

Ration

आपको तो पता ही होगा कि हमारे देश में प्रत्येक व्यक्ति को खाद सुरक्षा प्राप्त हो इसके लिए सरकार आर्थिक रूप से अक्षम लोगों को राशन कार्ड के माध्यम से राशन उपलब्ध कराती है, ताकि सबको खाद सुरक्षा प्राप्त हो सके. बेशक, बड़ी संख्या में लोग राशन कार्ड के तहत बेहद ही कम कीमत पर राशन प्राप्त करते हैं, जिनसे उन्हें बहुत सहूलियतें प्रदान होती है, लेकिन कई मौकों पर ऐसा भी देखा गया है, जब राशन डीलर कुछ लोगों को राशन देने में आनाकानी करते हैं.

आमतौर पर इन सभी परिस्थितियों का वही लोग शिकार होते हैं, जो आर्थिक तौर पर कमजोर होते हैं और अपने अधिकार और सूचनाओं के अभाव में वे चाहकर भी कुछ नहीं कर पाते हैं, लेकिन अब किसी भी व्यक्ति का हक न मारा जाए इसके लिए सरकार बड़ा कदम उठाने जा रही है.

जानें, सरकार का बड़ा कदम 

इस दिशा में सरकार ने बड़ा कदम उठाते हुए लोगों के लिए नेशनल फूड सिक्योरिटी की वेबसाइट्स पर सभी राज्यों के लिए एक अलग नंबर निर्धारित किया है, जिस पर कॉल करके आप शिकायत दर्ज करवा सकते हैं. इसके लिए आपको एनएफएसए की वेबसाइट पर जाना होगा, जहां से आपको शिकायत करने हेतु नंबर प्राप्त हो जाएगा. आपके द्वारा शिकायत करने पर उस राशन डीलर के खिलाफ त्वरित व कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

क्यों उठाया सरकार ने ये कदम

जैसा कि सर्वविदित है कि हमारे देश में हमेशा से ही गरीबों का हक मारा जाता रहा है, जिसको ध्यान में रखते हुए अब शासन ने ऐसे सभी लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने हेतु इस तरह का कदम उठा रही है. यूं तो खबरों की इस दुनिया में बेशुमार ऐसी खबरें सामने आती रहती है, जिसमें यह बताया जाता है कि गरीबों को मिलने वाले राशन को कुछ लोग खा रहे हैं, लेकिन अफसोस गरीबों के हक में लिए जाने वाले फैसले बहुत कम ही वजूद में आते हैं. अगर कभी आ भी जाते हैं, तो उसे धरातल पर नहीं उतारा जाता है. बहरहाल, सरकार का हालिया कदम गरीबों के लिए कितना कारगर साबित होता है. यह तो फिलहाल आने वाला वक्त ही बताएगा.

फ्री में दे रही थी राशन

गौरतलब है कि कोरोना काल के दौरान सरकार ने आर्थिक तौर पर कमजोर लोगों को नवंबर माह तक फ्री में राशन उपलब्ध कराया था. हालांकि, चुनावी राज्य बंगाल में अभी भी फ्री में राशन उपलब्ध कराया जा रहा है.

इन नंबरों पर कर सकते हैं आप फोन

बिहार- 1800-3456-194

छ्त्तीसगढ़- 1800-233-3663

झारखंड - 1800-345-6598, 1800-212-5512

उत्तरप्रदेश- 1800-180-0150

उत्तराखंड - 1800-180-2000, 1800-180-4188

पश्चिम बंगाल - 1800-345-5505

आंध्रप्रदेश - 1800-425-2977

अरुणाचल प्रदेश - 03602244290

असम - 1800-345-3611

दिल्ली - 1800-110-841

जम्मू - 1800-180-7106

कश्मीर - 1800–180–7011

गोवा- 1800-233-0022

गुजरात- 1800-233-5500

हरियाणा - 1800–180–2087

हिमाचल प्रदेश - 1800–180–8026

अण्डमान और निकोबार द्वीपसमूह - 1800-343-3197

चण्डीगढ़ - 1800–180–2068

दादरा और नगर हवेली और दमन और दीव - 1800-233-4004

लक्षद्वीप - 1800-425-3186

पुदुच्चेरी - 1800-425-1082

कर्नाटक- 1800-425-9339

केरल- 1800-425-1550

मध्यप्रदेश- 181

सिक्किम - 1800-345-3236

तमिलनाडु - 1800-425-5901

तेलंगाना - 1800-4250-0333

त्रिपुरा- 1800-345-3665

महाराष्ट्र- 1800-22-4950

मणिपुर- 1800-345-3821

मेघालय- 1800-345-3670

मिजोरम- 1860-222-222-789, 1800-345-3891

नागालैंड- 1800-345-3704, 1800-345-3705

ओड़िशा - 1800-345-6724 / 6760

पंजाब - 1800-3006-1313

राजस्थान - 1800-180-6127

 

English Summary: If You are not geting full ration than call in this number

Like this article?

Hey! I am सचिन कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News