1. ख़बरें

PM Kisan: ऐसे किसानों की खैर नहीं, जिन्होंने सरकार को लगाया है चूना, अब ऐसे लगेगी इनकी क्लास

सचिन कुमार
सचिन कुमार
PM Kisan Saman Nidhi Yojna

PM Kisan Saman Nidhi Yojna

यकीनन, इसमें कोई दोमत व दोराय नहीं है कि यह स्थिति बेहद ही बेहूदा है, जहां एक तरफ सरकार किसानों के हित के लिए एक से बढ़कर एक कदम लगातार उठा रही है, तो वहीं दूसरी तरफ सब तो नहीं, लेकिन कुछ किसान ऐसे भी हैं, जो सरकार के हितकारी कदमों का पलीता लगा रहे हैं. कुछ किसानों की वजह से सरकार की इन महत्वाकांक्षी योजनाओं का लाभ उन जरूरतमंद किसानों को नहीं मिल पा रहा है, जो वास्तव में इन योजनाओं के हकदार हैं. सरकार की इन्हीं योजनाओं में से एक योजना किसान सम्मान निधि योजना है.

यूं तो यह योजना आर्थिक रूप से कमजोर किसानों के लिए शुरू की गई थी. इस योजना का मुख्य ध्येय आर्थिक रूप से कमजोर किसानों को सशक्त करना है. इस योजना का लाभ किन किसानों को मिलेगा और किसे नहीं मिलेगा. इसके लिए सरकार ने बकायदा एक पैमाना तय किया हुआ है, मगर  ऐसा देखा जा रहा है कि सरकार की इस योजना का लाभ वे किसान भी उठा रहे हैं, जो इन पैमानों पर खरे नहीं उतर रहे हैं. विगत 14 मई को पीएम मोदी ने किसानों को किसान सम्मान निधि योजना के तहत 2 हजार रूपए जारी किए गए हैं. इससे पहले 7वीं किस्त के दौरान कुल 33 करोड़ ऐसे किसान चिन्हित किए गए थे, जो सरकार के तय पैमाने के विरूद्ध जाकर इसका लाभ उठा रहे थे.

वहीं, 8वीं किस्त के दौरान भी कुछ ऐसे फर्जी किसानों को चिन्हित किया जा रहा है, जो इस योजना का लाभ उठाने की पात्रता नहीं रखते हैं, मगर बावजूद इसके वे किसान इस योजना का लाभ उठा रहे हैं. अब ऐसी स्थिति में सरकार ने ऐसे सभी किसानों के खिलाफ कड़ा कदम उठाने  का पूरा प्लान तैयार कर लिया है. बस, अब यूं समझ लीजिए की ऐसे सभी किसानों की खैर नहीं है, जो किसान न होते हुए भी सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना का लाभ उठा रहे हैं. 

सरकार वसूलेगी 2 हजार रूपए

बताया जा रहा है कि अब ऐसे सभी किसानों से सरकार 2 हजार रूपए वसूलेगी, जो किसान न होते हुए भी सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना का लाभ उठा रहे हैं और सरकार को ठेंगा दिखाकर दो हजार रूपए ले रहे हैं. सरकार ने ऐसे सभी किसानों को साफ कह दिया है कि वे 2 हजार रूपए लौटा दे अन्यथा उन्हें इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ सकती है. आइए अब हम आपको बताते हैं कि अगर किसी ने धोखे से यह रकम प्राप्त की है, तो वो इसे कैसे सरकार को लौटा सकता है.

ऐसे लौटाए पैसा

अगर आप सरकार को पैसा लौटाना चाहते हैं, मगर किसी कृषि अधिकारी से संपर्क करने से संकोच कर रहे हैं, तो ऐसी स्थिति में आप सरकार द्वारा जारी किए गए इस (https://bharatkosh.gov.in/) की सहायता से आप इस रकम को लौटा सकते हैं. अपात्र लाभार्थ अपने बैंक को ट्रांजैक्शन वापस करने के लिए आवेदन भी दे सकते हैं, ताकी बैंक इस पैसे को अलग खाते में डाले और सरकार को वापस कर दे.

ऐसे किसानों को नहीं मिलेगा लाभ

चलिए, अब हम आपको उन सभी किसानों के बारे में बताते हैं, जो सरकार की इस योजना का लाभ उठाने के लिए पात्रता नहीं रखते हैं. वे सभी किसान, जो संवैधानिक पद व पूर्व मंत्री पद पर काबिज रह चुके हैं, वो सरकार की इस योजना का लाभ उठाने की पात्रता नहीं रखते हैं.

बेशक, आप किसान हो, मगर किसी सरकारी पद व राजनीतिक पद पर काबिज हैं, तो आप इस योजना का लाभ उठाने की पात्रता नहीं रखते हैं. वहीं, पिछले वित्तीय वर्ष में आयकर भुगतान करने वाले किसान इस योजना का लाभ उठाने की पात्रता नहीं रखते हैं, लेकिन अब सरकार ऐसे सभी किसानों की क्लास लगाने जा रही है, जो पात्रता नहीं रखने के बावजूद भी सरकार की इस योजना का लाभ उठा रहे हैं.

English Summary: Govt will take a strong action against those farmer who are illegally taking the proft of pm kisan scheme

Like this article?

Hey! I am सचिन कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News