1. ख़बरें

खुशखबरी! अब ग्राहकों को मात्र 587 रुपए में मिलेगा गैस सिलेंडर, पढ़िए पूरी खबर

स्वाति राव
स्वाति राव

LPG

बढ़ती महंगाई के बीच केंद्र सरकार द्वारा आम आदमी को राहत दी गई है. दरअसल, अब लोगों को कम कीमत पर रसोई गैस दिलाने के लिए सब्सिडी की सुविधा प्रदान की जाएगी. इसके लिए की एक योजना चालू की गई है. बता दें कि कुछ समय से इस सुविधा पर रोक लगा दी गयी थी.

इसी बीच एलपीजी उपभोक्ताओं (LPG consumers) के लिए एक अच्छी खबर है. एक बार फिर से केंद्र सरकार की तरफ से एलपीजी सिलेंडरों पर सब्सिडी की सुविधा के लिए विचार किया जा रहा है. माना जा रहा है कि सरकार ग्राहकों को सब्सिडी का पैसा (Subsidy Money) खाते में ट्रांसफर करेगी.  

भारतीय ऑयल मार्केटिंग कंपनियों (Indian Oil Marketing Companies) की तरफ से दी गयी जानकारी के अनुसार, घरेलू रसोई गैस सिलेंडर (LPG cylinder ) पर सरकार 303 रुपये तक की छूट दे रही है. इसमें अभी 900 रुपये में मिल रहा सिलेंडर 587 रुपये तक का मिल सकता है. इससे पहले रसोई गैस पर सब्सिडी की सुविधा केंद्र सरकार द्वारा साल 2020 में दी गयी थी. इस समय रसोई की कीमत 731 रुपये थी, जो सब्सिडी के बाद 583.33 रुपये का ग्राहक को मिल रहा था.

इस खबर को भी पढें - खुशखबरी: LPG सिलेंडर बुकिंग पर खाते में जमा होंगे 273 रुपए, जानिए कैसे?

रसोई गैस सब्सिडी पर केंद्र सरकार कर रही विचार (Central Government Is Considering LPG Subsidy)

आपको बता दें कि केंद्र सरकार रसोई गैस पर दी जाने वाली सब्सिडी फिर से बहाल करने पर विचार कर रही है. भारत सरकार के वित्त मंत्रालय के पास इस बारे में एक प्रस्ताव भी जारी किया गया है. इस पर अभी चर्चा की जा सकती है. केंद्र सरकार के मुताबिक, जल्द ही पूरे देश में रसोई गैस पर सब्सिडी फिर से बहाल हो सकती

इन राज्यों में दी जा रही सब्सिडी (Subsidy Being Given In These States)

केंद्र सरकार द्वारा रसोई गैस पर सब्सिडी की सुविधा झारखंड, पूर्वोत्तर के राज्य, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश के जनजातीय इलाके, झारखंड और अंडमान आदि क्षेत्रों में दी जा रही है.

English Summary: good news for lpg customers, now gas cylinder will be available for just Rs 587

Like this article?

Hey! I am स्वाति राव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters