1. ख़बरें

दिवाली तक मिलेगा मुफ्त राशन, जरूर पढ़िए पूरी खबर

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
Free Ration

Free Ration

यह खबर राशन कार्ड धारकों के लिए पढ़ना बहुत जरूरी है, क्योंकि आज हम उनके लिए एक खुशखबरी लेकर आए हैं. दरअसल, राशन कार्ड (Ration Card) एक ऐसा दस्तावेज है, जिसे पहचान पत्र के रूप में इस्तेमाल किया जाता है. इन दिनों राशन कार्ड अमीर व गरीब, दोनों के लिए एक जरूरी कार्ड है. इसके जरिए ही कोरोना काल में सरकार द्वारा गरीब लोगों को मुफ्त राशन बांटा गया.

नवंबर तक मिलेगा मुफ्त राशन  (Free ration will be available till November)

एक खुशखबरी यह है कि सरकार गरीबों को अगले 4 महीने तक मुफ्त राशन बांटेगी. यानी अब नवंबर तक मुफ्त राशन मिलेगा. इस योजना के जरिए लगभग 80 करोड़ लोगों को मुफ्त राशन (Free Ration) की सुविधा दी जाएगी.

मुफ्त मिलेगा 5 किलो खाद्यान्न राशन  (5 kg food grain ration will be available for free)

इस योजना के तहत गरीबों को 5 किलो खाद्यान्न राशन मुफ्त (Free 5Kg Ration) में उपलब्ध कराया जाएगा. इसके साथ ही अगर आपके पास राशन कार्ड (Ration Card) है, तो सरकार द्वारा गेहूं, चावल, दाल, चीनी और मिट्टी के तेल की खरीद पर सब्सिडी मिलती है.

कौन बनवा सकता है राशन कार्ड  (Who can make ration card)

  • भारत का नागरिक होना जरूरी है.

  • आपके पास किसी अन्य राज्य का राशन कार्ड नहीं होना चाहिए.

  • राशन कार्ड बनवाने वाले की उम्र 18 साल से अधिक होनी ही चाहिए. इससे कम उम्र के बच्चों का नाम माता-पिता के राशन कार्ड में शामिल होगा.

  • राशन कार्ड परिवार के मुखिया के नाम पर बनता है. इसमें शामिल सदस्यों का परिवार के साथ नजदीकी संबंध होना अनिवार्य है.

  • परिवार के सदस्यों का पहले से किसी राशन कार्ड में नाम नहीं होना चाहिए.

हाल ही में देश के पीएम मोदी ने मध्यप्रदेश के होशंगाबाद, बुरहानपुर, सतना और निवाड़ी के लाभार्थियों से सीधे बातचीत की, जो कि पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना का लाभ उठा रहे हैं. पीएम मोदी ने जाना कि उन्हें मुफ्त राशन मिला रहा है या नहीं. इसके साथ ही यह भी जाना कि उन्हें राशन मिलने में किसी तरह की परेशानी का सामना तो नहीं करना पड़ रहा है.

English Summary: free ration will be available for ration card holders till diwali

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News