1. ख़बरें

किसान बन सकते हैं पत्रकार, कृषि जागरण लांच कर रहा है ‘फॉर्मर द जर्नलिस्ट’, जानिए क्या है ये पहल

सचिन कुमार
सचिन कुमार

Agriculture Journalist

कृषि जागरण हमेशा से देश में कृषि पत्रकारिता को बढ़ावा देने हेतु नवीनतम तकनीकियों व नवप्रवर्तन विचारों को अपनाता रहा है. इस वर्ष कृषि जागरण अपनी सफलता की 25वीं वर्षगांठ का उत्सव मनाने जा रहा है. विगत 25 वर्षों से कृषि जागरण निर्बाध रूप से कृषक समुदाय से लगातार संपर्क करके, नवीनतम सूचनाएं प्रेषित कर रहा है. 

कृषि जागरण ने जनसंचार के अनेकों माध्यमों जैसे- पत्रिका, न्यूज़ पोर्टल, यू-टयूब चैनल, सोशल मीडिया के द्वारा कृषकों के साथ ही, कृषि क्षेत्र से संबंधित पाठकों और दर्शकों के बीच अपनी मौजूदगी दर्ज कराई है. कृषि जागरण और एग्रीकल्चर वर्ल्ड के संस्थापक और एडिटर-इन चीफ श्री एम.सी. डॉमिनिक की कृषक हितैषी विचारधारा का ही परिणाम है कि पहले कृषि जागरण द्वारा प्रारंभ किया गया फार्मर फर्स्ट किसानों की समस्याएं प्रशासन तक पहुँचने का जरिया बना. और फार्मर द ब्रांड के द्वारा उन किसानों को अपने ब्रांड को लोगों तक पहुंचाने का अवसर मिला जो अपने द्वारा बनाएं गए उत्पादों को बेचना चाहते है .

इसी क्रम में नवप्रवर्तन अवधारणाओं को विस्तार देने हेतु कृषि जागरण अब ‘फॉर्मर द जर्नलिस्ट’  मुहिम प्रारंभ कर रहा है, जिसके तहत  किसानों को मिलने वाला है खेती की ख़बरें प्रेषित करने का मंच. तो किसान भाइयों यदि आप करते है खेती या जानकारी रखते है कृषि के बारे में, और साथ में ज़ज्बा है कृषि क्षेत्र में कुछ कर दिखाने का तो जुड़िएं कृषि जागरण के साथ, बनिएं किसान पत्रकार. अपने अंदर के पत्रकार को पहचानिएं और अपनी भाषा में कृषि से संबंधित ख़बरें और वीडियो भेजिएं और जीतिएं आकर्षक पुरस्कार और प्रमाणपत्र.

किसानों को भेजना है खबरें और वीडियो

  • कृषि की नवीनतम सूचनाओं से संबंधित एक गुणवत्तायुक्त वीडियो.

  • वीडियो समयावधि 3 से 5 मिनट की होनी चाहिए. इस बात का विशेष ध्यान रहे कि यह वीडियो कृषि जागरण के लिए तैयार किया गया हो.

  • आपके द्वारा वीडियो साझा करने के बाद कृषि जागरण को इसे इस्तेमाल करने का इच्छानुसार एकाधिकार प्राप्त हो जाएगा.

  • आप चाहे तो कृषि से संबंधित सूचनाओं और ख़बरों को लेखों के रूप में हमें प्रेषित कर सकते हैंजिन्हें हमारी वेबसाइट पर प्रकाशित किया जाएगा.

आपको मिलेंगे पुरस्कार

  • 15 लेख व वीडियो पर 5 हजार रूपए.

  • 10 लेख व वीडियो पर 2,500 रूपए.

  • 5 लेख व वीडियो पर 1 हजार रूपए.

महत्वपूर्ण बातें जिनका रखना है आपको ध्यान

  • सिर्फ उन्हीं वीडियो और लेखों पर भुगतान दिया जाएगा, जिन्हें हमारे संस्थान द्वारा उपयोग किया जाएगा.

  • इसके अलावा,उन सभी कृषि पत्रकारों को हमारी तरफ से प्रमाणपत्र भी जारी किया जाएगा, जो 6 माह के अंदर 15 लेख व वीडियो देने प्रेषित करेंगे.

महत्वपूर्ण संपर्क

  • आप krishijagran.com/ftj पर पंजीकरण करवा सकते हैं.

  • कृषि जागरण से निम्न मोबाईल नंबर पर संपर्क कर सकते हैं- 9313301029, 9953756433

  • संपर्क करने के लिए वाट्सएप नंबर निम्न है – 9818893957

  • आप अपने वीडियो व लेख पंजीकृत करने के बाद निम्न ई.मेल आई.डी. पर मेल कर सकते हैं - journalist@krishijagran.com

  • आपके द्वारा भेजे गए लेखों व वीडियो के अनुमोदित होने पर आपको एक अधिकृत मेल आईडी उपलब्ध कराई जाएगी.

5 सितम्बर को होगा कार्यक्रम

फार्मर द जर्नलिस्ट कार्यक्रम लांच होगा-
दिनांक -  5 सितम्बर 2021
दोपहर - 11 बजे इस कार्यक्रम का लाइव प्रसारण आप कृषि जागरण के फेसबुक पेज पर देख सकते है.
कृषि संबंधित हर जानकारी और ख़बरों के लिए पढ़ते रहिएं कृषि जागरण हिंदी पोर्टल की ख़बरें और लेख.

English Summary: farmers can become journalists, Krishi Jagran is launching 'Former the Journalist', know what is this initiative

Like this article?

Hey! I am सचिन कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News