1. ख़बरें

Fish Farming Training: मुफ्त में मछली पालन की ट्रेनिंग के लिए जल्द करें आवेदन, पढ़िए कहां और कैसे?

किसानों को आर्थिक रूप से मजबूत करने के लिए सरकार लगातार प्रयास कर रही है. पशुपालन, मुर्गी पालन के अलावा अब सरकार मछली पालन (Fish Farming) के लिए भी किसानों को प्रोत्साहित कर रही है. जी हाँ बिहार सरकार राज्य में मछली पालन को बढ़ावा देने के लिए किसानों को नि:शुल्क प्रशिक्षण दे रही है.

स्वाति राव
Fish Farming Training
Fish Farming Training

किसानों को आर्थिक रूप से मजबूत करने के लिए सरकार लगातार प्रयास कर रही है. पशुपालन, मुर्गी पालन के अलावा अब सरकार मछली पालन (Fish Farming) के लिए भी किसानों को प्रोत्साहित कर रही है. जी हाँ बिहार सरकार राज्य में मछली पालन को बढ़ावा देने के लिए किसानों को नि:शुल्क प्रशिक्षण दे रही है. जिसके लिए बिहार सरकार (Bihar Government ) ने मछली पालन के लिए निशुल्क योजना (Fish Farming Free Scheme ) की शुरुआत की है.

इस योजना के तहत लोगों को निशुल्क प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा. प्रशिक्षण में पशुपालकों को मछली पालन की नई तकनीको के बारें में बताया जायेगा, जिससे उन्हें मछलियों का पालन करने में सुविधा होगी, तो आइये जानते हैं कि मछली पालन के लिए निःशुल्क प्रशिक्षण प्राप्त करने के क्या करना है?

मत्स्य पालन प्रशिक्षण हेतु संस्थान का नाम और स्थान (Name And Location Of Institute For Fisheries Training)

मछली पालन निशुल्क योजना के तहत प्रशिक्षण बिहार राज्य के अंदर और राज्य से बाहर दोनों स्थानों पर दिया जाता है. जिसमें आवेदक अपनी सुविधा के अनुसार प्रशिक्षण स्थान का चयन कर सकते है.

बिहार राज्य के अन्दर प्रशिक्षण हेतु संस्थान का नाम (Name Of The Institute For Training Within The State Of Bihar)

  • मत्स्य प्रशिक्षण एवं प्रसार केंद्र, मीठापुर पटना

  • आई.सी.ए.आर. पटना केंद्र

  • कॉलेज ऑफ़ फिशरीज, ढोली मुजफ्फरपुर

  • कॉलेज ऑफ़ फिशरीज किशनगंज

बिहार राज्य के बाहर प्रशिक्षण हेतु संस्थान का नाम (Name Of The Institute For Training Outside Bihar State)

  • केन्द्रीय मत्स्यिकी शिक्षा संस्थान, काकीनाडा

  • केन्द्रीय मात्स्यिकी शिक्षा संस्थान साल्टेक,कोलकाता

  • सेंट्रल इनलैंड फिशरीज रिसर्च इंस्टिट्यूट बैरकपुर, कोलकता

  • केन्द्रीय मात्सियकी शिक्षा संस्थान, पावरखेडा

  • कॉलेज ऑफ़ फिशरीज पंतनगर

  • केन्द्रीय मिठाजल जीवनयापन अनुसंधान संस्थान कौशल्यागंगा, (भुवनेश्वर)

मत्स्य पालन निशुल्क प्रशिक्षण हेतु पात्रता (Eligibility For Fisheries Free Training)

  • आवेदक निजी और सरकारी जलकर होना चाहिए.

  • मछली पालन करने वाले मत्स्य किसान या मछुआरे होने चाहिए.

  • मछली पालन करने वाले व्यवसायी होने चाहिए.

मत्स्य पालन प्रशिक्षण हेतु ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया (Online Application Process For Fisheries Training)

  • मत्स्य पालन निशुल्क प्रशिक्षण के लिए सबसे पहले आवेदक को इसकी ऑफिशियल वेबसाइट https://fisheries.ahdbihar.in/ पर जाना होगा.

  • इसके बाद आवेदक को ‘मत्स्य योजनाओं में आवेदन’ के अंतर्गत पंजीकरण पर क्लिक करना होगा.

  • इसके बाद आवेदक को सभी जानकारी दर्ज कर आपको एक अकाउंट बनाना होगा.

  • आपके रजिस्टर्ड मोबाइल पर एक एसएमएम के माध्यम से यूजर आईडी और पासवर्ड प्राप्त होगा.

  • अब आपको अपने यूजर आईडी और पासवर्ड से लॉग इन कर मत्स्य पालन निशुल्क प्रशिक्षण योजना का फॉर्म में नाम, पता और प्रशिक्षण का स्थान दर्ज कर सबमिट पर क्लिक करना होगा.

English Summary: application process for free fish farming training program Published on: 16 February 2022, 05:28 IST

Like this article?

Hey! I am स्वाति राव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News