1. लाइफ स्टाइल

काढ़े में इन चीज़ों को शामिल कर बनाये 'पावरफुल ड्रिंक'

Kadha (Powerful Drink)

COVID-19 महामारी ने हमें सिखाया कि दवाओं और इंजेक्शनों के लिए दौड़ने की तुलना में स्वाभाविक रूप से आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली (Immunity system) में सुधार करना अधिक जरुरी है. ख़ुशी की बात यह है कि लोग अब अपनी जड़ों की ओर लौट रहे हैं और अपने आहार में प्राकृतिक सामग्री (Natural ingredients) को शामिल करना शुरू कर रहे हैं.

हर्बल चाय या काड़ा (Herbal tea or Kadha) भारत में बहुत सारे स्वस्थ लाभों के साथ सबसे अच्छे पेय में से एक है. साथ ही आयुष मंत्रालय (Ministry of Ayush) की ओर से इस पेय के दैनिक सेवन की सिफारिश की जाती है. हालांकि सैकड़ों वर्षों से विभिन्न समस्याओं पर इस कड़ा फॉर्मूलेशन का बहुत प्रभावी ढंग से उपयोग किया जाता है.

हर्बल चाय या काढ़ा क्या है? (What is herbal tea or kadha?)

यह एक पारंपरिक, घर का बना पावरफुल पेय (Powerful Drink) है, जिसमें कई उपचार गुण होते हैं. इस काढ़े को बनाने के लिए विभिन्न औषधीय सामग्रियों का उपयोग किया जाता है. यह प्राचीन काल से भारत में उपयोग किया जाता है, लेकिन वर्तमान में, यह कोरोना महामारी 2020 के कारण सुर्खियों में दोबारा से पकड़ बना रहा है. आपकी इम्यून सिस्टम को बढ़ाने के अलावा, यह काढ़ा शरीर को आराम देने से लेकर शरीर के तापमान को कम करेगा, त्वचा की गुणवत्ता में सुधार करेगा, आपके पेट के स्वास्थ्य को मजबूत करेगा और आपको कई और अधिक लाभ भी पहुंचाएगा.

काढ़ा बनाने का सीक्रेट फार्मूला (The secret formula for making a decoction)

काढ़ा बनाने में नीचे दिए गए चीज़ों का उपयोग करना आव्यशक है:

तुलसी (Tulsi)

इसे भारतीय तुलसी भी कहा जाता है, जो विटामिन सी और जिंक से भरपूर होती है. इस पौधे में एंटी-वायरल, एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुण भी होते हैं. यह आपको संक्रमण मुक्त और स्वस्थ रखता है.

सिनेमन (Cinnamon)

यह एक भारतीय मसाला है, जिसे आमतौर पर हिंदी में दालचीनी के नाम से जाना जाता है. इसमें गज़ब के एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जो आंतरिक संक्रमण को मारते हैं और आपकी प्रतिरक्षा को बढ़ाते हैं. यह पुरानी बीमारियों के जोखिम को भी कम करता है.

काली मिर्च (Black Pepper)

यह काला, छोटा मसाला सूजन पैदा करने वाले संक्रमण को मारने के लिए अद्भुत काम करता है. यह गठिया, कैंसर और मधुमेह के खतरे को भी कम करता है.

लौंग (Clove)

लौंग का नियमित रूप से सेवन करने से आपकी प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद मिलती है क्योंकि यह एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है.

हल्दी (Turmeric)

हल्दी एक प्रसिद्ध मसाला है जिसमें करक्यूमिन होता है. करक्यूमिन में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो संक्रमण और सूजन को कम करते हैं और आपको स्वस्थ रखते हैं.

अदरक (Ginger)

अदरक की चाय पीना हर किसी को पसंद होता है. यह खाने में बहुत ही स्वादिष्ट लगती है. यह सिर्फ स्वाद ही नहीं बल्कि कई तरह के पोषक तत्वों से भी भरपूर होता है. ताजा अदरक संक्रमण को दूर करने में मदद करता है.

शहद या गुड़ (Honey or Jaggery)

थोड़ी मात्रा में गुड़ या शहद स्वाद को संतुलित करता है. हालांकि यह वैकल्पिक है.

लेमोंग्रस (Lemongrass)

लेमनग्रास एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है. यह खांसी-जुकाम, बुखार के इलाज में बहुत उपयोगी है. यह रक्तचाप को नियंत्रित करने में भी मदद करता है.

हर्बल चाय या काढ़ा के फायदे (Benefits of herbal tea or Kadha)

प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाता है (Boosts the immune system)

हर्बल टी एंटीऑक्सिडेंट और विटामिन से भरपूर होती है जो आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाने के लिए बहुत जरूरी है. एंटीऑक्सिडेंट मुक्त कणों को नष्ट करके आंतरिक संक्रमण को कम करने में मदद करते हैं. यह कैंसर, मधुमेह जैसी पुरानी बीमारियों के खतरे से बचाता है.

सांस की शिकायतों के खिलाफ लड़ता है (Fights against respiratory complaints)

खांसी और सर्दी के लिए हर्बल चाय बहुत अच्छी होती है. तुलसी और लेमनग्रास आपके श्वसन संबंधी लक्षणों को दूर करने के लिए बेहतर तरह से काम करती है. यह अस्थमा के लक्षणों को भी कम करता है.

पाचन में सहायता करता है (Aids in digestion)

भोजन के बाद एक कप हर्बल चाय आपकी पाचन संबंधी शिकायतों जैसे अपच, मतली, उल्टी आदि को दूर करने में मदद कर सकती है. यह आपके चयापचय को बढ़ाता है और सामान्य पाचन प्रक्रिया को बनाए रखने में मदद करता है.

वजन घटाने में मदद करता है- (Helps in weight loss)

हर्बल टी में कई प्राकृतिक तत्व होते हैं जो आपके फैट को बर्न करने और आपको दुबले बनाने में मदद करते हैं. वजन कम करने के लिए वजन घटाने वाले आहार के साथ दिन में दो से तीन बार हर्बल चाय पर्याप्त है.

एंटी-एजिंग गुण- (Anti-aging properties)

हर्बल चाय में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को धीमा करने में मदद करते हैं और आपकी त्वचा को स्वस्थ और चमकदार बनाते हैं. यह आपके बालों को स्वस्थ भी बनाता है.

सूजन कम करें- (Reduce swelling)

यह गठिया के दर्द के लिए एक बेहतरीन टॉनिक है. अदरक, हल्दी और नीलगिरी जैसी हर्बल चाय सूजन की स्थिति को कम करने के लिए उत्कृष्ट हैं. यह जोड़ों और मांसपेशियों के दर्द के लिए एक आदर्श उपचार भी बनाता है.

रक्तचाप को कम करता है- (Lowers blood pressure)

हिबिस्कस चाय जैसी हर्बल चाय बिना किसी दुष्प्रभाव के रक्तचाप को कम करने में मदद करती है. यह प्राकृतिक उपचार आधुनिक औषधियों के प्रयोग की तुलना में बहुत प्रभावी है.

English Summary: Make a 'powerful drink' by including these things in the decoction

Like this article?

Hey! I am रुक्मणी चौरसिया. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters