1. लाइफ स्टाइल

रोटी या चावल, इन दोनों में से अच्छे सेहत के लिए क्या खाना फायदेमंद होता है ?

मनीशा शर्मा
मनीशा शर्मा
wheat chapatti

Health Benefits

कुछ लोग रोटी खाने के तो कुछ लोग चावल के शौकीन होते है. क्योंकि ये ऐसे खाद्य पदार्थ है. जिसे  साल के बारह महीने लोग खाना पसंद करते है, पर आज तक लोगों को सही से यह नहीं पता है कि रोटी और चावल इन दोनों अनाजों में से कौन ज्यादा बेहतर है. क्योंकि ये दोनों अनाज अपने आप में एक बेहतरीन भोजन का काम करते है. तो ऐसे में आइये जानते है इन दोनों में से कौन से हमारे स्वास्थ्य के लिए ज्यादा फायदेमंद है. इन दोनों अनाजों को आप अपने नाश्ते के साथ -साथ लंच में और डिनर में भी खा सकते हैं. इसके साथ ही गेहूं से बनी रोटी का सेवन आप सब्जी के साथ भी कर सकते है. इसी तरह चावल भी आप दाल, सब्जी के साथ खा सकते है. इन दोनों अनाजों में भरपूर मात्रा में पौष्टिक तत्व होते है जो हमारे शरीर के लिए काफी फायदेमंद होते है.

अगर हम बात करें, इन दोनों अनाज के नुकसान के बारे में तो वैसे तो इसके सेवन से कोई भी हमारे शरीर को नुकसान नहीं पहुँचता. मगर आज के समय में शुद्ध चावल और गेहूं का आटा मिलना भी अपने आप में बहुत बड़ी बात है. ज्यादातर लोगों का सवाल अभी भी यही होता है कि कौन-सा अनाज ज्यादा बेहतर होता है. अगर हम ज्यादा चावल खाने के बजाय रोटी का सेवन करते है तो ये हमें कई तरह की समस्याओं से बचाता है, क्योंकि इसमें फैटी एसिड की मात्रा बहुत कम होती है जो हमें हृदय सम्बंधित समस्या, बढ़ते शुगर लेवल आदि समस्या से बचाती है.

इसके साथ ही चावल और रोटी दोनों में ही कार्बोहाइड्रेट लेवल और कैलोरी लेवल में एक समान पाया जाता है, ये दोनों अनाज केवल अपने न्यूट्रीशनल वैल्‍यू की वजह से ही एक दूसरे से अलग होते हैं. अगर बात करें, चावल कि  तो सफेद चावल और पॉलिश चावल में जो फाइबर चावल की भूसी और चोकर में मौजूद होता है उसे उसमें से निकाल देने की वजह से इसमें मौजूद ज्यादातर माइक्रोन्यूट्रीयेंट्स जैसे विटामिन और मिनरल्स इसमें से बाहर निकल जाते हैं.

जिस वजह से इसमें कोई पौष्टिक तत्व नहीं रहते है. इसके साथ ही गेहूं से बनी रोटी का ये फायदा है कि इसमें मौजूद सभी पौष्टिक तत्व वैसे ही रहते है जिस वजह से गेहूं की रोटी को चावल के मुकाबले में ज्यादा बेहतर पाया गया हैं.

English Summary: health benefits and side effects of chapati or rice better

Like this article?

Hey! I am मनीशा शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News