1. लाइफ स्टाइल

ये 5 हर्बल चाय रखेगी, आपकी सेहत को दुरुस्त

स्वाति राव
स्वाति राव

green-teas

हम अपने दिन की शुरुआत एक कप चाय के साथ करते हैं. क्यूंकि हम ऐसा अनुभव करते है कि, चाय हमारी थकान को दूर करके, स्फूर्ति प्रदान करती है.  लेकिन अगर आप भी ज्यादा चाय पीना पसंद करते हैं तो संभल जाइये , चाय पीना सेहत के लिए हानिकारक होता है. चाय की पत्ती में कैफीन की मात्रा बहुत अधिक होती है.  एक कप चाय में आमतौर पर 20 से 60 मिली ग्राम के बीच कैफीन की मात्रा होती है. जो शरीर में पहुँच कर आयरन को अवशोषित करने की क्षमता को कम कर देता है. इसलिए दूध मिश्रित चाय की बजाय, हर्बल चाय पीना सेहत के लिए भी ठीक है.  हर्बल चाय पीने से शरीर का वजन भी नहीं बढ़ता है और बीमारियों से भी बचे रहते हैं.

हर्बल चाय में स्वाद के साथ कई तरह के गुण हैं,  जो उम्र बढ़ाने में मदद करते हैं.  शोध में पता चला कि नियमित रूप से हर्बल चाय पीने वाले लोगों में पुरानी बीमारी के खतरे को भी कम करने की क्षमता है.  हर्बल चाय सिर्फ रिफ्रेशिंग ड्रिंक नहीं है बल्कि इसमें मौजूद एंटी ऑक्सीडेंट सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है.  इस लेख में जानिएं कुछ विशेष प्रकार की चाय की किस्मों के बारे में.

ग्रीन टी- green tea

रेगुलर दूध वाली चाय की जगह ग्रीन टी पीना सेहत के लिए लाभदायी होता है .  ग्रीन टी  हमारे शरीर के साथ दिमाग के लिए भी बहुत फायदेमंद होती है. इसमें पाए जाने वाले एंटी ऑक्सीडेंट तत्व के कारण शरीर में सूजन, कैंसर, टाइप-2 डायबिटीज और हृदय संबंधी बीमारियों का खतरा कम हो जाता है.  ये एंटी ऑक्सीडेंट संभावित खतरनाक प्रोटीन प्लेक को भी तोड़ते हैं,  जिससे खून में थक्के बन जाते हैं.  ये स्ट्रोक के खतरे को कम करने में मदद करता है.

कैमोमाइल चाय - chamomile tea

कैमोमाइल मूल रूप से एक जड़ी बूटी है, जो एक फूल है. इस टी को कैमोमाइल नामक फूलों की मदद से बनाया जाता है. यह सबसे हेल्दी ड्रिंक्स में मानी जाती है.  इस हर्बल टी को दिल की सेहत के लिए काफी अच्छा माना जाता है.  यह चाय एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी बैक्टीरियल गुणों से भरपूर होती है. इसका स्वाद हल्का मीठा होता है.  ये आपको शांत रखने के साथ-साथ इम्युनिटी बढ़ाने में मदद करेगी. यह नसों को शांत कर पाचन तंत्र को बढ़ाने में मदद करती है.  इसमें मौजूद एंटी ऑक्सीडेंट कैंसर से लड़ने के लिए जाने जाते हैं. अध्ययन में पता चला कि जो लोग कैमोमाइल की चाय पीते हैं वो लोग लंबा जीवन जीते हैं

अदरक वाली चाय - ginger tea

 हर कोई अदरक की चाय का दीवाना होता है.  अदरक की चाय सिर्फ स्वाद में ही नही स्वास्थ्य के लिए भी बहुत लाभदायक होती है है.  अदरक का इस्तेमाल सालों से बीमारियों से लड़ने और उसके इलाज के लिए किया जाता रहा है. यह चाय मन को शांत रखने के लिए प्रभावी तरीका है. अदरक की चाय में जिंजरोल होता है जो कैंसर, ब्लड प्रेशर और डायबिटीज जैसी बीमारियों से बचाता है.  यह आपको वजन कम करने और टाइप -2 डायबिटीज के मरीजों में शुगर लेवल को मेंटेन करने में मदद करता है.  अदरक की चाय आपको सर्दी और इससे होने वाली बीमारियों से बचाने में मददगार है. अदरक की प्रकृति गर्म होती है जिसकी वजह से यह शरीर को  गर्माहट प्रदान करता है ,  अदरक की चाय पीने से आलस्य भी दूर होता है.

पुदीने की चाय - Mint tea

पुदीने की चाय आपके पाचन तंत्र के लिए फायदेमंद होती है.  इसमें मेंथॉल होता है जो आंत को आराम देता है साथ ही पेट दर्द और सूजन से छुटकारा दिलाता है. पुदीना एंटी वायरल, एंटी बैक्टीरियल और एंटी ऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होता है जो कैंसर से लड़ने में मदद करता है. इसके अलावा इरिटेबल बॉवेल सिंड्रोम से भी छुटकारा दिलाता है.

गुड़हल की चाय - hibiscus tea

हर्बल टी की दुनिया में एक खास नाम शामिल है, गुड़हल की चाय.  ऐसा माना जाता है कि गुडहल की चाय, चाय की तलब को दूर करने के साथ-साथ स्वास्थ्य को भी कई तरीके से फायदा पहुंचाने का काम कर सकती है.  ब्लड प्रेशर को कम करने के लिए गुड़हल की चाय बेहद अच्छी होती है.  शोध अध्ययनके द्वारा पता चला है कि अगर कोई व्यक्ति लगातार 6 हफ्ते तक गुड़हल की चाय पीता है तो उसका ब्लड प्रेशर कम हो जाता है.  इसके अलावा यह शरीर का बजन कम करने में काफी सहायक होता है. इसमें एथोसायनिन नामक एंटीऑक्सीडेंट होता है जो हृदय रोग, कैंसर और डायबिटीज जैसी बीमारियों को बढ़ने से रोकता है.

सेहत से सम्बंधित जानकारियां जानने के लिए पढ़ते रहिये कृषि जागरण हिंदी पोर्टल.

English Summary: drink these 5 herbal teas and keep your health fit

Like this article?

Hey! I am स्वाति राव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News