1. औषधीय फसलें

Arjun Tree: स्तन कैंसर से लेकर स्त्री रोग में लाभकारी है यह पेड़, यहां जानें इसके फायदे

अगर आप भी कई बीमारियों से ग्रस्त हैं और हमेशा सुस्ती को महसूस करते हैं. तो यह अर्जुन के पेड़ की छाल का सेवन करने से कई बीमारियों से छुटकारा पा सकता है. इसके अलावा स्त्रों के लिए इस पेड़ से बनी औषधि बेहद फायदेमंद है....

लोकेश निरवाल
लोकेश निरवाल
Arjun Tree
Arjun Tree

पेड़-पौधे सिर्फ प्रकृति के लिए लाभदायक नहीं होते हैं, बल्कि यह इंसानों के लिए भी बहुत फायदेमंद होते हैं. बता दें कि कई पेड़-पौधों से इंसानों के लिए औषधि बनाने का भी कार्य करती है. आयुर्वेद के मुताबिक, पेड़-पौधों से कई तरह की खतरनाक बीमारी के साथ शरीर के कई अंगों के लिए भी फायदेमंद है.

ऐसे कई पेड़-पौधे मौजूद है. जिनसे कई तरह की दवाइय़ां बनाई जाती हैं. इन्हीं में से एक अर्जुन का पेड़ (Arjuna tree) है. इस पेड़ में कई लाभकारी गुण मौजूद है. जैसे कि बीटा-सिटोस्टिरोल, इलेजिक एसिड, ट्राई हाइड्रोक्सी ट्राइटर्पीन, मोनो कार्बोक्सिलिक एसिड, अर्जुनिक एसिड आदि. इस पेड़ से कई देसी व अंग्रेजी दवाइयां बनाई जाती हैं. आपको बता दें कि भारत में अर्जुन का पेड़ हिमालय की तराई, उत्तर प्रदेश, बिहार और मध्य प्रदेश में सबसे अधिक पाया जाता है.

तो आइए आज हम इस लेख में अर्जुन के पेड़ के फायदे के बारे में विस्तार से जानते हैं...

  • जैसे कि आप को ऊपर बताया कि अर्जुन के पेड़(arjuna tree) में कई गुण मौजूद है, जिससे जानकर आप हैरान हो जाएंगे.
  • आयुर्वेद के मुताबिक, अर्जुन के पेड़ की छाल का काढ़ा बनाकर पीने से व्यक्ति स्वस्थ रहता है और पूरे दिन ऊर्जा से भरपूर रहता है.
  • इसके अलावा इसका काढ़ा व्यक्ति की इम्यूनिटी को भी मजबूत बनाता है.
  • यह काढ़ा बच्चों से लेकर बड़ों की हड्डियों के लिए भी बहुत फायदेमंद साबित है.
  • अगर व्यक्ति नियमित रूप से इसके फल का सेवन करता है, तो उसे एसिडिटी और गैस की समस्या नहीं होती है.
  • यह भी कहा जाता है, कि अर्जुन की छाल से कफ, पित्त, सर्दी-खांसी और मोटापे की समस्या दूर होती है और व्यक्ति तंदरुस रहता है. 
  • अर्जुन के पेड़ खूबसूरती बढ़ाने वाली क्रीम बनाने के लिए इस्तेमाल में भी लाया जाता है.
  • इसके अलावा इसके द्वारा इसके पेड़ से स्त्री रोगों में भी कई तरह की दवाइयां बनाई जाती है.

अर्जुन पेड़ की छाल के लाभ (Benefits of Arjun tree bark)

  • अर्जुन पेड़ की छाल पीने से व्यक्ति को हार्ट अटैक जैसी समस्या नहीं होती है.
  • पीलिया में अर्जुन पेड़ की छाल का चूर्ण बनाकर और उसे देसी घी के साथ सेवन करने से लाभ मिलता है.
  • अर्जुन पेड़ की छाल का चूर्ण दूध में मिलाकर पीने से हड्डियों का दर्द दूर होता है.
  • इसमें कनरिनिन रासायनिक घटक मौजूद होने के कारण यह स्तन कैंसर के प्रभाव को कम करती है. यदि आप अर्जुन के पेड़ की छाल को गर्म दूध में मिलाकर रोजाना पीते है, तो स्तन कैंसर से बचा जा सकता है.
  • अर्जुन के पेड़ की छाल व्यक्ति के मुंह के छाले ठीक होते है. क्योंकि इसकी तासीर काफी ठंडी होती है, जो मुंह में छाले नहीं होने देती है और साथ ही यह हाई ब्लड प्रेशर को भी नियंत्रण में रखता है.  
English Summary: Arjuna tree is beneficial from breast cancer to gynecological diseases Published on: 04 May 2022, 05:43 IST

Like this article?

Hey! I am लोकेश निरवाल . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News