1. पशुपालन

मुर्रा नस्ल की भैंस और भदावरी नस्ल की भैंस में कौन-सी नस्ल है सबसे बेहतर

मनीशा शर्मा
मनीशा शर्मा
milk

Animal Husbandry

वर्तमान समय में हमारे देश में भैंसों की मांग बहुत ज्यादा है. इनका दूध का सेवन भी बाकि पशुओं के दूध से ज्यादा लोग पसंद करते हैं. तो ऐसे में आज हम आपको अपने इस लेख में भैंसों की ऐसी दो नस्लों के बारे में बतायेंगे जो काफी ज्यादा लोकप्रिय हैं. तो आइये जानते हैं इनके बारे में विस्तार से...

मुर्रा नस्ल की भैंस (Murrah breed buffalo)

मुर्रा नस्ल भैंस की मांग बहुत ज्यादा है. क्योंकि ये सबसे अधिक दूध उत्पादन करने वाली भैंस की नस्ल है. मुर्रा नस्ल की भैंस का ज्यादातर इस्तेमाल डेयरी में दूध उत्पादन के लिए किया जाता है. इसके दूध में वसा (Fat)  की मात्रा 7 से 8 प्रतिशत होती है. भैंस की इस नस्ल का ज्यादातर इस्तेमाल पंजाब और हरियाणा में अधिक किया जाता है.

मुर्रा नस्ल के भैंस की विशेषताएं (Features of Murrah Breed Buffalo)

  • ये नस्ल काफी भारी-भरकम होती है तथा इनकी गर्दन और सिर हल्के होते हैं. इनके सींग आकर में छोटे और कसकर मुड़े होते हैं. इनका रंग काला और पूंछ लंबी होती है. इनका पिछला हिस्सा काफी चौड़ा होता है और अगला हिस्सा संकरा होता है.

  • यह नस्ल देशी एवं अन्य प्रजाति की भैंसों से 2 से 3 गुणा अधिक दूध देती है. यह प्रतिदिन 15 से 20 लीटर दूध आसानी से दे सकती है.

  • ये भैस गर्म अथवा ठंडे किसी भी प्रकार की जलवायु में भी जीवित रहने में सक्षम है.

  • इस नस्ल की भैंस की कीमत 60 से 80 हजार रुपए के लगभग होती है.

भदावरी नस्ल की भैंस (Bhadavari Breed Buffalo)

भदावरी भैंस की मांग भी हमारे देश में सबसे ज्यादा है. इसका मुख्य कारण है इसके दूध में अत्याधिक मात्रा में मौजूद वसा (Fat)  का होना है. वैज्ञानिकों के अनुसार,  भदावरी भैंस के दूध में औसतन 8.0 प्रतिशत वसा पाई जाती है. ये नस्ल ज्यादातर आगरा,  इटावा तथा जालौन जिलें के आसपास के क्षेत्रों में पाली जाती है.

भदावरी नस्ल के भैंस की विशेषताएं (Features of Bhadavari Breed Buffalo)

  • इस नस्ल के दूध में घी उत्पादन (Ghee Production) भी विशेष गुण होता है. इस नस्ल की भैंसों का शारीरिक संरचना भी काफी अलग होती है.

  • अगर इनके आकार की बात की जाए तो वो मध्यम होता है जबकि इनके शरीर पर हल्के बाल होते हैं. इसी तरह इनकी टांगें भी छोटी होती है, लेकिन काफी मजबूत होती है.

  • इसका वजन 300 से 400 किग्रा तक होता है. इसके सींगों का आकार भी तलवार की तरह होता है.

  • इनके आहार पर बाकि भैंसों के मुकाबले काफी कम पैसा खर्च होता है. क्योंकि अन्य भैंसों के मुकाबले इनका आहार कम होता है.

  • यह नस्ल प्रतिदिन 4 से 5 लीटर दूध आसानी से दे सकती है.

  • ये नस्ल अति गर्म या आर्द्र जलवायु में भी आसानी रह लेती है. इनके बच्चों के मृत्यु दर अन्य भैसों की तुलना में काफी कम होती है.

  • इस नस्ल भैंस की कीमत 70 से 80 हजार रुपए के लगभग होती है.

English Summary: Murrah breed buffalo and Bhadavari breed buffalo Difference between

Like this article?

Hey! I am मनीशा शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News