Animal Husbandry

मछली, दुधारू पशुओं के लिए अब मिलेगा आसानी से लोन

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में अब मछली पालन, दुधारू पशु से लेकर मुर्गीपालन तक के लिए बैंक जल्द ही लोन उपलब्ध करवाएंगे. इसके लिए अलग-अलग मदों में ऋण का निर्धारित कर दिया गया है. दरअसल जिलाधिकारी की अध्यक्षता में फसली ऋण वितरण हेतु वितमान निर्धारण के लिए हुई बैठक में इस बात पर पूरी तरह से सहमति बन गई है. बैठक में यह तय किया गया है कि किस व्यापार के लिए कितना ऋण उपलब्ध करवाएंगे इस बात को भी तय किया गया है.

वित्तमान हुआ निर्धारित

हर साल फसलों के लिए वित्तमान का निर्धारित किया जाता है. जिसमें किस फसल में बैंक कितना ऋण उपलब्ध करवाएंगे इस बात को तय किया जाता है. इन फसलों में गन्ना, गेहूं आलू से लेकर दलहन जैसी फसलें होती हैं, लेकिन इस बार इस सूची में मत्स्य पालन, दुधारूपशु, बकरी व मुर्गी पालन को भी जोड़ा गया है. जिलाधिकारी की सहमति से इन सभी व्यवसायों के लिए प्रति यूनिट ऋण तय कर दिया गया है. अब तय की गई यूनिट के आधार पर ही बैंकों को अपने ग्राहकों को ऋण उपलब्ध कराना होगा.

पहले भी मिलता था लोन

ऐसा नहीं है इन सभी व्यावसायों के लिए बैंक पहले ऋण लेकिन सरकार की ओर से वित्तमान निर्धारित न होने पर बैंक अपने आधार पर इस व्यवसाय के लिए लोन उपलब्ध कराते थे. इस बार सरकार की ओर से मत्सय से लेकर मुर्गी पालन तक के लिए वित्तमान निर्धारित कर दिया गया है. इससे किसानों को काफी ज्यादा लाभ प्राप्त होने वाला है.

इतना मिलेगा ऋण

एक हेक्टेयर में मछली पालन - 2 लाख, दो दुधारु पशु - 10,4440, 20 बकरी व एक बकरे का पालन -51285, 500 मुर्गी की यूनिट के लिए-163359 पहली बार मत्सय, मुर्गी, दुधारू पशु व बकरी के लिए वित्तमान निर्धारित किया गया है. इसी के आधार पर अब ग्राहक बैंक से ऋण ले सकते हैं.



Share your comments