MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. सरकारी योजनाएं

अब कृषि यंत्र खरीदिए और पाईये 50 फ़ीसदी नक़द सब्सिडी

किसानों को कृषि यंत्र ख़रीदने के बाद अब सब्सिडी के लिए उन्हे बैंको के बार-बार चक्कर नहीं लगाने पाड़ेगें. कृषि विभाग अब किसानों को घर बैठे कृषि यत्रों के ख़रीद पर नक़द 50 फ़ीसदी कि सब्सिडी उपलब्ध करा रही है. बता दे कराहल ब्लॉक में प्रत्येक ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी के क्षेत्र में एक गांव को चयनित किया है.

किसानों को कृषि यंत्र ख़रीदने के बाद अब सब्सिडी के लिए उन्हे बैंको के बार-बार चक्कर नहीं लगाने पाड़ेगें. कृषि विभाग अब किसानों को घर बैठे कृषि यत्रों के ख़रीद पर नक़द 50 फ़ीसदी कि सब्सिडी उपलब्ध करा रही है. बता दे कराहल ब्लॉक में प्रत्येक ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी के क्षेत्र में एक गांव को चयनित किया है. सभी चयनित गांवो मे किसानों को गेहूं के प्रमाणित बीज, कुट्टी काटने की मशीन और स्प्रे पंप मशीन उपलब्ध करना चालू कर दिया गया है। जो भी किसान अनुदान का लाभ उठाना चाहते है वे पंजीयन करा सकते हैं.

कृषि विभाग के एसडीओ एसके शर्मा ने यह जानकारी दी कि किसानों को खेती-बाड़ी से संबन्धित यंत्र खरीदेने पर अब शासन कि योजना के तहत किसान नक़द अनुदान ले सकते है. अब इसके लिए किसानों को बैंको के चक्कर नहीं लगाने पड़ेगे. इसमें विभाग ने किसानों से अनुदान की राशि नकद एवं चेक से लेने की सुविधा दी है. कृषि विभाग के दल ने क्षेत्र का भ्रमण करके किसानों से संवाद किया. उन्होने कहा कि अनुदान के लिए किसान लोकसेवा केंद्र, एमपी एग्रो अथवा अपने निजी कम्प्यूटर से आनलाइन पंजीकरण करा सकते है.

इस योजना के तहत किसान अपनी जरूरत के अनुरूप किसी भी कृषि यंत्र के खारीद पर अनुदान ले सकते है. सभी किसान ले सकते है चाहे वे किसान पात्रता सूची मे पहले से पंजीकृत हो या नहीं. इसके लिए किसान तत्काल किसान पात्रता सूची मे पंजीकरण कराकर अनुदान का लाभ सकता है. इस योजना में अनुसूचित जाति व जनजाति वर्ग के लिए अलग से सुविधा है. उन्हें सामान्य वर्ग से अधिक राशि का अनुदान कृषि यंत्र खरीदने के लिए उपलब्ध कराया जाएगा। योजना का लाभ लेने के लिए उन्हें पंजीयन के समय जाति प्रमाण-पत्र व अन्य आवश्यक दस्तावेज उपलब्ध कराने होगें.

प्रभाकर मिश्र, कृषि जागरण

English Summary: Now buy agricultural equipment and get 50 percent cash subsidy Published on: 19 November 2018, 05:01 IST

Like this article?

Hey! I am . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News