Land Purchase Scheme: जानिए क्या है SBI की लैंड परचेज स्कीम और आवेदन प्रक्रिया

Land Purchase Scheme: देश में जैविक खेती के बढ़ते क्रेज और और भूमिहीन किसानों की मदद करने के हिसाब से देश के सबसे बैंक स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया (SBI) खेती की जमीन खरीदने के लिए लोन दे रही है. अगर आप खेती करना चाहते हैं आपके पास कम जमीन है या जमीन नहीं है तो आप भारतीय स्टेट बैंक (SBI) की लैंड परचेज स्कीम (LPS) का फायदा उठा सकते हैं. भारतीय स्टेट बैंक (SBI) खेती के लिए जमीन खरीदने के लिए उन लोगों को लोन दे रहा है, जिनके लोन की रकम चुकाने का रिकॉर्ड बेहतर है. अगर आप भी LPS के तहत खेती के लिए जमीन खरीदना चाहते हैं तो आपको SBI के लोन की रकम चुकाने के लिए 7 से 10 साल का समय मिल सकता है.

क्या है SBI की लैंड परचेज स्कीम (Land purchase scheme)?

SBI वास्तव में खेती की जमीन खरीदने के लिए जमीन की कीमत का 85% तक लोन दे रही है. इसमें लोन की रकम वापसी की अवधि एक से दो साल में शुरू होगी.

क्या है SBI की लैंड परचेज स्कीम (LPS) का उद्देश्य? (What is the purpose of SBI's Land Purchase Scheme (LPS)?)

SBI की लैँड परचेज स्कीम का उद्देश्य छोटे और सीमांत किसानों की जमीन खरीदने में मदद करना है. इसके साथ ही खेती करने वाले ऐसे लोग भी SBI की LPS स्कीम के तहत लोन लेकर जमीन खरीद सकते हैं जिनके पास पहले से खेती के लिए कृषियोग्य जमीन नहीं है.

SBI की लैंड परचेज स्कीम (LPS) के तहत कौन कर सकता है आवेदन? (Who can apply under SBI's Land Purchase Scheme (LPS)?)

  • भारतीय स्टेट बैंक (SBI) के अनुसार लैंड परचेज स्कीम (LPS) के तहत जमीन खरीदने के लिए ऐसे छोटे और सीमांत किसान आवेदन कर सकते हैं जिनके पास 5 एकड़ से कम असिंचित जमीन है.

  • अगर किसी किसान के पास 5 एकड़ से कम सिंचित जमीन है तो वह भी LPS की मदद से खेती की जमीन खरीद सकता है.

  • इसके साथ ही खेती का काम करने वाले भूमिहीन मजदूर भी LPS स्कीम के तहत जमीन खरीदने के लिए लोन ले सकते हैं.

  • SBI की LPS के तहत खेत खरीदने के लिए लोन लेने का आवेदन करने वाले व्यक्ति का कम से कम दो साल का लोन रीपेमेंट का रिकॉर्ड होना चाहिए. SBI कृषि भूमि खरीदने के लिए दूसरे बैंक से लिए गए लोन के ग्राहकों के आवेदन पर भी विचार कर सकता है.

  • SBI की LPS में खेत खरीदने के लिए लोन देने की एकमात्र शर्त यह है कि आवेदक पर किसी और बैंक का लोन बकाया नहीं होना चाहिए.

ये भी पढे : खुशखबरी ! किसान सिर्फ 20 % देकर खोले ‘फार्म मशीनरी बैंक’, सरकार दे रही 80 % सब्सिडी, क्लिक कर जानिए आवेदन प्रक्रिया

Land purchase scheme में कितना मिल सकता है लोन? (How much loan can be availed in Land purchase scheme?)

  • SBI की लैंड परचेज स्कीम के तहत खेती की जमीन खरीदने के लिए लोन के आवेदन पर स्टेट बैंक उस जमीन की कीमत का आंकलन करेगा. इसके बाद कृषि भूमि की कुल कीमत का 85% तक लोन लिया जा सकता है.

  • LPS के तहत लोन लेकर खरीदी जाने वाली कृषि भूमि लोन की रकम वापस करने तक बैंक के पास बंधक रहेगी. जब आवेदक लोन की रकम का रीपमेंट कर देता है तो उस जमीन को बैंक से मुक्त करा सकता है.

LPS में लोन लेने के बाद चुकाने की अवधि (Repayment period after taking loan in LPS)

  • SBI की लैंड परचेज स्कीम के तहत लोन लेने पर आपको 1 से 2 साल का फ्री समय मिलता है. अगर जमीन को खेती के हिसाब से सही करना है तो उसके लिए दो साल और अगर पहले से ही विकसित भूमि है तो उसके लिए SBI आपको एक साल का फ्री पीरियड देता है.

  • यह समय पूरा होने के बाद आपको छमाही किश्त के जरिए LPS के तहत लिए गए लोन का रीपेमेंट करना पड़ता है. लोन लेने वाला व्यक्ति 9-10 साल में LPS लोन का रीपेमेंट कर सकता है.

महत्वपूर्ण जानकारी

Land purchase scheme के बारे में और अधिक जानकारी के लिए
https://sbi.co.in/hi/web/agri-rural/agriculture-banking/miscellaneous-activities/land-purchase-scheme पर विजिट कर सकते हैं. इसके अलावा आप एसबीआई के 24X7 हेल्पलाइन नंबर अर्थात 1800 11 2211 (टोल -फ्री), 1800 425 3800 (टोल-फ्री) या 080-26599990 पर काल करें। टोल फ्री नंबर पर देश के सभी लैंडलाइन और मोबाइल फोन से काल किया जा सकता है

 

ये भी पढे : कुसुम योजना: 90 % सब्सिडी पर किसानों को मिलेगा Solar Pump, जानिए ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया

English Summary: Land Purchase Scheme: know what is the SBI's land purchase scheme and application process

Like this article?

Hey! I am विवेक कुमार राय. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News