1. सरकारी योजनाएं

Pension Scheme: इन 3 योजना में 55 से 200 रुपए निवेश करके मिलेगी बुढ़ापे में पेंशन, बस इन शर्तों को करना होगा पूरा

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य

केंद्र सरकार द्वारा किसान, पशुपालक, महिलाएं, बुजुर्ग, आम आदमी समेत व्यापारियों तक के लिए कई तरह की खास योजनाएं चलाई जा रही हैं. इसमें सुकन्या समृद्धि योजना पीपीएफ, एमआईएस, किसान विकास पत्र समेत कई पेंशन योजना (Pension Schemes) शामिल हैं. इन योजनाओं द्वारा तरह-तरह के लाभ दिए जाते हैं. इनमें कुछ योजनाओं का नाम भी शामिल है, जो किसान, व्यापारी और गरीब मजदूरों को हर महीन तय पेंशन दे सकती है. इन योजनाओं के तहत बैंक खाते में सालाना 36 हजार रुपए तक डाले जा सकते हैं. सरकार द्वारा यह योजनाएं खासतौर पर छोटे किसानों, व्यापारियों और मजदूरों के लिए चलाई जा रही हैं. आइए आपको सरकार की 3 खास योजनाओं की जानकारी देते हैं, जिनका लाभ आप हर महीने या फिर सालाना उठा सकते हैं. 

  • पीएम श्रमयोगी मानधन (PM Shramayogi Maandhan)

  • पीएम किसान मानधन (PM Kisan Maandhan)

  • पीएम लघु व्यापारी मानधन (PM Small Business Maandhan)

पीएम श्रमयोगी मानधन (PM Shram yogi Maandhan)

इस योजना का लाभ उन असंगठित क्षेत्रों में काम करने वाले कामगार को दिया जाता है, जिनकी आय बहुत कम होती है. ऐसे में लोगों के पास एक समय के बाद यानी वृद्धावस्था में किसी तरह का सहारा नहीं रहता है, जिससे वह अपनी जीविका चला पाएं. मगर सरकार की यह योजना वृद्धावस्था में पेंशन उपलब्ध कराती है. इसमें मजदूरी करने वालों से लेकर ड्राइवर, स्वीपर और इलेक्ट्रिशियन भी शामिल हो सकते हैं. इसके लिए आपकी आय 15 हजार रुपए से कम होनी चाहिए. इसके लिए आपको हर महीने 55 रुपए से लेकर 200 रुपए तक जमा करने पड़ते हैं. इसके आधार पर ही बुढ़ापे में पेंशन दी जाती है.

योजना के लिए ज़रूरी दस्तावेज़

  • आधारकार्ड

  • बैंक खाता नबंर

  • IFSC कोड

  • दो फोटो

पीएम किसान मानधन (PM Kisan Maan dhan)

मोदी सरकार .की यह योजना साल 2019 में लाई गई थी. इसमें किसानों को पेंशन दी जाती है. इसका लाभ 18 से 40 साल तक के किसान उठा सकते हैं. इस योजना का लाभ उन किसानों को दिया जाता है, जो कि छोटी जोत वाले या सीमांत किसान होते हैं, जिनके पास 2 हेक्टेयर तक की खेती होती है. इसके लिए किसानों को 55 रुपए से लेकर 200 रुपए तक हर महीने निवेश करने पड़ते हैं.

योजना के लिए ज़रूरी दस्तावेज़

  • आधार कार्ड

  • खसरा-खतौनी की नकल

  • दो फोटो

  • बैंक पासबुक

  • IFSC कोड

PM लघु व्यापारी मानधन (PM Small Business Maandhan)

यह योजना छोटे व्यापारी को लाभ पहुंचाती है. इस योजना को पीएम लघु व्यापारी मानधन योजना के नाम से लाया गया था, लेकिन अब इसका नाम बदलकर NPS For Traders and Self Employed persons कर दिया गया.  इस योजना के तहत छोटे व्यापारियों को मदद पहुंचाई जाती है. इसके तहत 60 साल की उम्र के बाद 3 हजार  रुपए की पेंशन हर महीने जाती है. इसका लाभ उठाने के लिए व्यापारी का आत्मनिर्भर होना ज़रूरी है, साथ ही उसकी उम्र 18 से 40 साल तक की होनी चाहिए. अगर सालाना आय की बात करें, तो यह 1.5 करोड़ रुपए से कम होनी चाहिए. अगर व्यापारी EPF, NPS, ESIC का सदस्य हैं, तो उसे इस योजना का लाभ नहीं मिल पाएगा. बता दें कि इसके लिए हर महीने 55 से 200 रुपए तक जमा करने होते हैं.  

योजना के लिए ज़रूरी दस्तावेज़

  • आधार कार्ड

  • दो फोटो

  • बैंक पासबुक

  • IFSC कोड

ऐसे होता है रजिस्ट्रेशन

  • इन 3 योजनाओं का आवेदन CSC सेंटर द्वारा कर सकते हैं.

  • इसके लिए आपको आधार कार्ड, बचत बैंक खाता, जनधन खाते का नंबर, फोटो समेत IFSC कोड देना होता है.

  • खाता खोलते समय नॉमिनी तय कर सकते हैं.

  • सभी जानकारी दर्ज होने के बाद मासिक कॉन्ट्रीब्यूशन की जानकारी मिलती रहती है.

  • शुरुआत में निवेश करते समय कैश देना होता है.

Read more: New business ideas: इन 5 नए बिजनेस से मिलेगा लॉकडाउन के बाद सबसे ज्यादा मुनाफ़ा, विदेशी कंपनियां भी कर चुकी हैं शुरुआत

English Summary: Investing Rs 55 to 200 in these 3 schemes will continue to get pension every month

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News