1. सरकारी योजनाएं

पोल्ट्री फ़ार्म योजना की पूरी जानकारी, पढ़िए सरकार की शर्तें

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
poultry Bussiness

Poultry Farming

हर राज्य में रोजगार देने के लिए सरकार योजनाएं चलाती रहती है, जिससे सभी वर्ग के लोग अपना जीवनयापन ठीक प्रकार से कर सकें. उत्तर प्रदेश सरकार ने भी कई सरकारी योजनाएं चलाई हुई हैं, जिनमें से मुर्गी पालन योजना (Poultry Farming Scheme in Uttar pradesh) एक है. इस योजना का उद्देश्य है कि बेरोजगार और ज़रूरतमंद लोग अपना खुद का व्यवसाय स्थापित कर सकें. इसके लिए योगी सरकार ने पशुपालन और मुर्गी पालन योजना (Poultry Farming Subsidized Bank Loan) चलाई है. इस योजना के तहत मुर्गी पालन व्यवसाय को बढ़ावा मिलेगा, क्योंकि इसमें उत्तर प्रदेश की सरकार छोटे मुर्गी पालकों का सहयोग करेगी. खास बात है कि किसान भाई या फिर कोई भी युवा मुर्गी पालन योजना का लाभ उठा सकता है. किसान भाई खेती के साथ भी पशुपालन, मुर्गी पालन करके अपनी आय बढ़ा सकते हैं. बता दें कि उत्तर प्रदेश की सरकार को साल 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करनी है. देश के प्रधानमंत्री का सपना पूरा करने में यह एक बहुत बड़ा कदम माना गया है.

 मुर्गी पालन योजना की पूरी जानकारी (Complete information about the poultry scheme)

सरकार की मुर्गी पालन योजना (Poultry Farming Scheme UP) के तहत मुर्गी फ़ार्म खोला जा सकता है, जिसमें सरकार की तरफ से सब्सिडी पर लोन उपलब्ध होगा. इस लोन के कुछ भाग का भुगतान मुर्गी पालक को करना पड़ेगा और बाकी का भुगतान राज्य सरकार करेगी. इतना ही नहीं, इस योजना में उप्र सरकार लाइसेंस भी देगी, साथ ही स्वच्छता का प्रमाण-पत्र उपलब्ध कराएगी. आपको बता दें कि इस योजना के तहत कुक्कुट पालक लगभग 30 हजार पक्षियों की कॉमर्शियल यूनिट और लगभग 10 हजार पक्षियों की कॉमर्शियल यूनिट स्थापित कर सकता है.

इस योजना के अन्तर्गत 30 हजार पक्षियों की कॉमर्शियल यूनिट संचालित करनी होगी, जिसमें मुर्गी पालक को 1.60 करोड़ रुपये की लागत लगाने की ज़रूरत पड़ेगी. इसमें लाभार्थी को 54 लाख रुपये देने होंगे, तो वहीं 1.06 करोड़ का नियमानुसार बैंक लोन पास कराना होगा. इसके अलावा 10 हजार पक्षियों की कॉमर्शियल यूनिट के लिए मुर्गी पालक को कुल 70 लाख रुपये लगाने पड़ेंगे, जिसमें 21 लाख रुपये लाभार्थी देना और 49 लाख रुपये का बैंक लोन मिलेगा. इसका लाभ उठाने छोटा-बड़ा कोई भी किसान या युवा मुख्य पशु चिकित्साधिकारी के कार्यालय में आवेदन कर सकता है. इसकी ज्यादा जानकारी के लिए http://www.animalhusb.upsdc.gov.in/en पर जाकर देख सकते हैं.

 मुर्गी पालन योजना के लिए सरकार की शर्तें (Government Conditions for Poultry Scheme)

  • लाभार्थी के पास तीन एकड़ ज़मीन होनी चाहिए.

  • यह ज़मीन हाइवे, जलश्रोत, जलाशय, आबादी आदि से 500 मीटर दूर होनी चाहिए.

  • लाभार्थी के पास ब्रॉयलर पैरेंट फ़ार्मिंग के लिए छह एकड़ भूमि होना ज़रूरी है.

  • उत्तर प्रदेश का निवासी हो.

  • बैंक में बचत खाता, आधार कार्ड औऱ भूमि का प्रमाण-पत्र होना चाहिए.

मुर्गी पालन योजना के लिए सरकार का उद्देश्य (Government's objective for the poultry scheme)

ग्रामीण और शहरी क्षेत्र में नए रोज़गार पैदा हों.

ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं और बेरोज़गारों के लिए रोज़गार मिल सके, साथ ही आय दोगुनी हो.

English Summary: information of up government poultry farm scheme

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News