Kisan Credit Card: खेती से जुड़ा सस्ता लोन लेने के लिए कई जगह से बनवा सकते हैं किसान क्रेडिट कार्ड, इतने साल की मिलेगी वैधता

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य

किसानों के लिए किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) का बेहद काम आने वाली योजना है. इसका उद्देश्य है कि किसानों के लिए कम ब्याज पर लोन उपलब्ध कराया जाए. इस योजना के तहत किसानों को खेती संबंधी लोन काफी सस्ती दर पर मिल जाता है. हाल ही में, केंद्र सरकार ने किसान क्रेडिट कार्ड की योजना को पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम के साथ जोड़ दिया है. सरकार का लक्ष्य है कि देश के 2.5 करोड़ किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड की सुविधा उपलब्ध दी जाए. इसके साथ ही किसानों को खेती संबंधी सस्ता लोन मिल सके और बिचौलियों की समस्या को भी खत्म किया जा सके.

किसानों के सवालों के जबाव

कई किसानों के मन में सवाल उठता होगा कि किसान क्रेडिट कार्ड कहां से बनवाया जाता है, साथ ही यह कितने साल के लिए वैलिड होता है? अगर आपके मन में भी यह सवाल है, तो सबसे पहले नीचे दी गई जानकारी पर अवश्य ध्यान दें.

ये खबर भी पढ़ें: Lockdown Business Idea: लॉकडाउन में शुरू करें वाहनों को सैनिटाइज करने का बिजनेस, रोजाना होगी अच्छी कमाई

किसान क्रेडिट कार्ड के लिए कहां अप्लाई करें

  • अगर कोई किसान इस कार्ड को बनवाना चाहता है, तो वह अपने क्षेत्रीय ग्रमीण बैंक, को-ऑपरेटिव बैंक, नैशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया से संपर्क कर सकता है.

  • इसके साथ ही स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ इंडिया और इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट बैंक ऑफ इंडिया से भी किसान क्रेडिट कार्ड बनवा सकता है.

आधिकारिक वेबसाइट से बनवा सकते हैं कार्ड

किसान किसान क्रेडिट कार्ड योजना की आधिकारिक बेवसाइट https://pmkisan.gov.in/. की मदद भी कार्ड बनवा सकते हैं. बता दें कि इस बेवसाइट में फॉर्मर टैब के दाईं तरफ डाउनलोड किसान क्रेडिट फार्म (Download KKC Form) का विकल्प होता है. किसान इस फॉर्म का प्रिंट आउट निकवा सकते हैं, साथ ही इस फॉर्म को भरकर नजदीकी कमर्शियल बैंक में जाकर जमा कर सकते हैं. सरकार की तरफ से इस कार्ड की वैधता 5 साल निर्धारित की गई है.

आपको बता दें कि अक्सर किसान बैंकों की जटिल प्रक्रिया की वजह से लोन नहीं लेना चाहते हैं. इसके चलते  वह जमीनदार या अपने आस-पास मौजूद लोगों से लोन ले लेते हैं. अगर किसी कारण से फसल बर्बाद हो जाए, तो किसान उस लोन को चुकाने में असमर्थ हो जाते हैं. इस कारण कई किसानों को आत्महत्या जैसा कदम भी उठाना पड़ता है. किसानों की इस समस्या पर ध्यान देते हुए सरकार द्वारा एक अहम कदम उठाया गया. यह अहम कदम किसान क्रेडिट कार्ड योजना को लागू करने का था. इसके तहत किसानों को 1.6 लाख रुपए तक का लोन बिना गारंटी मिलता है.

ये खबर भी पढ़ें: स्वरोजगार योजना देगी बेरोजगार प्रवासी युवाओं को 10 से 25 लाख तक का लोन, जानें शर्तें और आवेदन की प्रक्रिया

English Summary: Information about making a Kisan Credit Card

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News