खुशखबरी: 5 हजार रुपए की आर्थिक मदद के लिए 15 मई से करें आवेदन, ये राज्य सरकार डालेगी खाते में पैसा

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य

लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान केंद्र और राज्य सरकार जरूरतमंदों के लिए तमाम योजनाएं लागू कर रही हैं, ताकि इस संकट की घड़ी में उनकी आर्थिक मदद की जा सके. ऐसे में सभी लोगों को इन योजनाओं पर बारीकी से नजर बनाए रखना है, ताकि वह समय रहते इन योजनाओं का लाभ उठा पाएं. बता दें कि लॉकडाउन के बीच हाल ही में एक और नई योजना और लागू हुई है, जिसके तहत लोगों के खाते में 5 हजार रुपए भेजे जाएंगे. आइए आपको इसके लिए आवेदन करने की प्रक्रिया बताते हैं, जिसको पूरा करके आप अपने खाते में राशि मांगा सकते हैं.

ये राज्य दे रही है 5 हजार रुपए

लॉकडाउन के बीच विभिन्न राज्यों की सरकार अपनी स्थानीय जनता को आर्थिक मदद पहुंचा रही हैं. ऐसे में दिल्ली सरकार ने भी एक अहम फैसला लिया है. दरअसल, दिल्ली सरकार (Delhi Government) भी अपने स्थानीय मजदूर और नौकरी करने वालों को 5 हजार रुपए देने वाली है.

ये खबर भी पढ़ें:  बड़ी खुशखबरी: अब ग्रामीण महिलाएं कमाएंगी हर महीना 6 हजार रुपए, ऐसे मिलेगा ग्रामीण आजीविका मिशन से रोजगार

इन लोगों को मिलेगा लाभ

  • बढ़ई

  • ग्राइंडर वर्कर

  • कंक्रीट मिक्सर वाले लोग

  • क्रेन ऑपरेटर

  • कंस्ट्रक्शन साइट पर काम करने वाले चौकीदार

  • इलेक्ट्रिशियन

  • फिटरमैन, लोहार, पंप ऑपरेटर,

  • राजमिस्त्री, टाइल्स स्टोन फीटर

  • वेल्डर, कूली, बेलदार, मजदूरों को राशि दी जाएगी.

इस तारीख से करना होगा आवेदन

दिल्ली सरकार की आधिकारिक बेवसाइट पर एक लिंक जारी होगा. इस लिंक द्वारा श्रमिक खुद या किसी अन्य व्यक्ति की मदद से ऑनलाइन आवेदन कर सकता है. इस आवेदन की प्रक्रिया आने वाली 15 मई से शुरू होकर 25 मई तक चलेगी. इसके आवेदन में तमाम ज़रूरी दस्तावेज़ की फोटो कॉपी अपलोड करनी होगी. इसके बाद सभी का वेरिफिकेशन होगा, जिसके बाद सरकार द्वारा खाते में राशि भेजी जाएगी. बता दें कि इससे पहले सरकार ने स्थानीय कैब ड्राइवरों को भी आर्थिक मदद देने का ऐलान किया था.

ये खबर भी पढ़ें: राशन कार्ड पर बदले नियमों से करोड़ों लोगों को सितंबर तक मिलता रहेगा मुफ्त राशन

English Summary: Delhi government will send an amount of Rs 5 thousand to the account of lockdown

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News