1. सरकारी योजनाएं

बकरी पालकों के लिए बिहार सरकार ने शुरू की ये योजना, ऐसे उठाएं फायदा

सचिन कुमार
सचिन कुमार

Goat Farming

बिहार सरकार ने बकरी पालकों कें लिए ‘बिहार बकरी पालन 2021’ की  योजना शुरू की है. इस योजना के तहत बकरी पालकों को आर्थिक सुविधा प्रदान की जाएगी, जिसके वे अपना बकरी पालन का कारोबार शुरू कर सकें, लेकिन यह लोन प्राप्त करने के लिए उन्हें राज्य सरकार द्वारा निर्धारित किए कुछ नियमों का अनुपालन करना होगा. आइए, जरा उन पात्रताओं के बारे में तफसील से जानते हैं, जिस पर खरे उतरकर ही आप प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की  इस योजना का लाभ उठा सकते हैं.

योजना का लाभ उठाने के लिए नियम

इस योजना का लाभ उठाने के लिए किसी भी बकरी पालक के पास 20  बकरी और 1 बकरे का होना अनिवार्य है या नहीं तो इसके अलावा किसी भी बकरी पालक के पास 40 बकरी और 1 बकरा होने पर ही वह राज्य सरकार की इस योजना का लाभ उठा सकते हैं.

बता दें कि पिछले 5वर्षों से बकरी पालन करने वाले लोग ही राज्य सरकार की इस योजना का लाभ उठा सकते हैं. इस योजना के तहत अनुसूचित जाति के पशुपालकों को 60 फीसद आर्थिक अनुदान देने का प्रावधान है और सामान्य जाति के पशुपालकों को 50 फीसद आर्थिक अनुदान देने का प्रावधान किया गया है. 

जानें, कितनी मिलेगी राशि

बिहार सरकार की इस योजना के तहत 20 बकरी और 1  बकरा रखने वाले पशुपालकों को 2  लाख 5 हजार रूपए देने का प्रावधान किया गया है. वहीं, 40 बकरी और 1 बकरी के साथ अपना बकरी पालन शुरू करने वाले पशुपालकों को 4 लाख 9 हजार रूपए देने का प्रावधान किया गया है. 

क्यों उठाया बिहार सरकार ने यह कदम

सर्वविदित है कि हमारे देश में काफी मात्रा में पशुधन है, लेकिन अफसोस आज की तारीख में इसका जिस तरह उपयोग किया जाना चाहिए, उसका उतना उपोयग नहीं हो पा रहा है, जिसको ध्यान में रखते हुए सरकार की तरफ से समय-समय पर कई तरह की योजनाएं चलाई जाती हैं.

इसी क्रम में बिहार सरकार की तरफ से बकरी पालन को बढ़ावा देने के लिए ‘बिहार बकरी पालन योजना’ शुरू की गई है, ताकि बिहार के अधिकांश लोग बकरी पालन  में सक्रिय होकर अच्छा मुनाफा अर्जित कर सकें.

 कौन उठा सकता है इस योजना का लाभ

जैसा कि हम आपको पहले ही बता चुके हैं कि यह योजना बिहार सरकार की तरफ से बकरी पालन को बढ़ावा देने हेतु शुरू की गई है. आइए, अब आपको बताते हैं कि आखिर इस योजना का लाभ उठाने हेतु किन बातों का विशेष ध्यान रखना होगा.

  1. योजना का लाभ उठाना वाला व्यक्ति बिहार का होना अनिवार्य है.

  2. अगर किसी व्यक्ति का लाभ उठाने के लिए चयन कर लिया जाता है, तो उस व्यक्ति का नाम सहायक निदेशक पशुपालक सूचना एवं प्रसार के जरिए विज्ञापन के रूप में प्रकाशित कराया जाएगा.

  3. आवेदन आपको ऑनलाइन करना होगा जो कि आप किसी भी आधिकारिक वेबसाइट के लिए कर सकते हैं.

  4. कोई सरकारी कर्मचारी अगर बकरी पालन करता है, तो वो इस योजना का लाभ नहीं उठा सकता है.

  5. इस योजना का लाभ पहले आओ पहले पाओ के आधार पर नहीं है , बल्कि एक प्रक्रिया के तहत किया जाएगा.

इन दस्तावेजों की पड़ेगी जरूरत

अगर आप बिहार सरकार की इन योजनाओं का लाभ उठाना चाहते हैं, तो आपको इसके लिए कुछ दस्तावेजों की जरूरत होगी, जो निम्म प्रकार से है.

  1. आवेदन करने वाले फोटोग्राफ

  2. आधार कार्ड

  3. जाति प्रमाणपत्र

  4. आवेदन के समय आवेदक की वांछित राशि की छाय़ा राशि

  5. प्रशिक्षण संबंधी साक्ष्य

  6. बकरी पालन के लिए भूमि की जानकारी देना अनिवार्य है।

  7. बैंक खाता पासबुक

  8. मोबाइल नंबर

  9. आवास प्रमाण पत्र

 चयन प्रक्रिया

एक बार आपके द्वारा चयन प्रक्रिया पूरी होने पर आपके आवेदन को विभिन्न चरणों से गुजरना होग. सबसे पहले इसकी जिला स्तर पर जांच होग. आवेदक के दस्तावेजों और आवेदन फॉर्म की शुरूआती जांच सहायक कुकुट अधिकारी/प्रभारी कुकुट पदाधिकारी व जिला पशुपालन के स्तर के अधिकारी द्वारा इसकी जांच की जाएगी. 

ऐसे करना होगा आवेदन 

  1. आवेदन करने के लिए आपको सबसे पहले इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा. वेबसाइट पर जाने के बाद आपको लेटेस्ट न्यूज के बाद आपको बकरी पालन का विकल्प दिखाई देगा, उसमें आपको क्लिक करना होगा, जिसके बाद आपको न्यू पेज दिखेगा.

  1. न्यू पेज पर क्लिक करने के बाद आपको रजिस्ट्रेशन पर क्लिक करना होगा.

  2. इसके बाद वोटर आइडी कार्ड या आधार कार्ड में से किसी एक चयन आप कर सकते हैं.

  3. रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी करने के बाद आपके मोबाइल फोन पर एक पासवर्ड भेजा जाएगा. उसके बाद आपको लॉगइन करना होगा. यह करने के बाद आपके सामने एक फॉर्म खुल जाएगा, जिसमें मांगी गई पूरी जानकारी आपको भरनी होगी. फॉर्म भरने के बाद आपको आवश्यक दस्तावेज अपलोड करने होंगे. इस तरह से आप आवेदन कर सरकार की इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

पशुपालन अधिकारी का क्या कहना है

बिहार पशुपालन विभाग के अधिकारी के मुताबिक, बिहार सरकार ने यह योजना प्रदेश में बिगड़ रही पशुपालकों की दुरूस्त करने के उद्देश्य से शुरू की है, ताकि उनकी स्थिति में सुधार लाया जा सकें. आमतौर पर यह देखा जात है कि पशुपालकों को अर्थ के अभाव में विभिन्न प्रकार की समस्याओं का सामाना करना पड़ता है.

लिहाजा उन्हें इन समस्याओं से निजात दिलाने हेतु सरकार ने इस योजना की शुरूआत की है. बिहार पशुपालक के मुताबिक ,पशुपालकों को बहुत फायदा पहुंचाएगी. खैर, अब आपका बिहार सरकार की इस योजना के संदर्भ में क्या कुछ कहना है. हमें नीचे कमेंट कर जरूर बताएं.

English Summary: Bihar government started bikar palak scheme for goat farmers

Like this article?

Hey! I am सचिन कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News