1. सरकारी योजनाएं

कृषि क्लीनिक और कृषि व्यवसाय केंद्र योजना: किसानों और युवाओं के लिए शानदार मौका, ऐसे करें आवेदन और उठाएं लाभ

सुधा पाल
सुधा पाल

कोरोनाकाल में जहां हर व्यक्ति और क्षेत्र प्रभावित हुआ है, लोग अपने भविष्य के बारे में सोच रहे हैं. ऐसा इसलिए क्योंकि बहुत लोगों ने इस बीच अपनी नौकरी से लेकर अपना व्यवसाय तक खोया है. ऐसे में आगे के लिए स्थायी स्रोतों को कैसे स्थापित किया जाए, यह सभी के मन में जरूर आता होगा. ऐसे में सरकार आपके लिए कुछ खास लेकर आई है. साल 2022 तक किसानों की आय को दोगुना (doubling farmers income) करने के लिए कई सरकारी योजनाएं (government schemes) और कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं. इन दिनों सरकार ऐसे कार्यक्रमों पर अधिक जोर और खेती (agriculture) को बढ़ावा दे रही है जिससे युवाओं को रोजगार के अवसर मिलेंगे. इसी कड़ी में सरकार के पास एग्री क्लीनिक और एग्रीबिजनेस सेंटर (Agri Clinic and Agribusiness Center) नामक एक योजना है.

ACABC योजना में 20 लाख रुपये तक का ऋण

इस योजना का मुख्य उद्देश्य देश में कृषि क्लीनिक और कृषि व्यवसाय केंद्र की स्थापना को बढ़ावा देना है। कृषि व्यवसाय को बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा एक योजना भी तैयार की गई है जिसके माध्यम से खेती से जुड़े व्यक्ति या जुड़ने के इच्छुक व्यक्ति 20 लाख रुपये तक का ऋण ले सकते हैं। यह राशि आप एग्री क्लिनिक और एग्री बिजनेस सेंटर योजना के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं।

इन दस्तावेज़ों के साथ करें ऑनलाइन आवेदन

एसीएबीसी योजना के लिए आपको ऑनलाइन आवेदन (Apply online for ACABC Scheme) करना होगा। इसके लिए आपको https://www.acabcmis.gov.in/Institute.aspx पर जाना होगा। यहां आप उस केंद्र को चुनें जिसमें आप अपनी सुविधा के अनुसार प्रशिक्षण लेना चाहते हैं. आपको बता दें कि आवेदन के लिए आपको आधार कार्ड नंबर, ईमेल आईडी, अंतिम शैक्षणिक योग्यता, बैंक खाते की जानकारी और फोटो जैसे दस्तावेजों की आवश्यकता होगी.  

मिलता है 45 दिनों का प्रशिक्षण

इस योजना में शामिल होने वाले व्यक्ति को 45 दिनों का प्रशिक्षण दिया जाता है. इसके साथ ही यदि आपकी योजना योग्य पाई जाती है तो नाबार्ड (NABARD - National Bank for Agriculture and Rural Development) यानी नेशनल बैंक फॉर एग्रीकल्चर एंड रूरल डेवलपमेंट आपको ऋण उपलब्ध कराता है.

ये लोग जुड़ सकते हैं इस योजना

बेरोजगार कृषि स्नातक, कृषि डिप्लोमा धारक, कृषि में उच्चतर माध्यमिक और जैविक विज्ञान स्नातक और कृषि में स्नातकोत्तर इस योजना का लाभ ले सकते हैं. इसके साथ ही आवेदनकर्ता की उम्र 18 से 60 वर्ष की होनी चाहिए.

योजना के लिए ऋण और अलग-अलग वर्ग के लिए सब्सिडी 

कृषि क्लीनिक और कृषि व्यवसाय केंद्र स्थापित करने के लिए नाबार्ड बैंक 20 लाख रुपये का व्यक्तिगत ऋण और प्रशिक्षण उद्यमियों के लिए 1 करोड़ रुपये तक का समूह लोन उपलब्ध कराता है. उद्यमियों को परियोजना लागत का 36 से 44 प्रतिशत लोन भी दिया जाएगा। इस लोन पर सामान्य श्रेणी के उद्यमियों को 36 प्रतिशत सब्सिडी भी दी जाएगी. वहीं अनुसूचित जातियों, जनजातियों और महिलाओं से संबंधित उद्यमियों को 44 प्रतिशत सब्सिडी दी जाएगी.

अधिक जानकारी के लिए...

अगर आप इस योजना के संबंध में अधिक जानकारी लेना चाहते हैं तो एग्री क्लिनिक या एग्री बिजनेस सेंटर योजना के टोल फ्री नंबर 1800-425-1556  पर कॉल कर सकते हैं।

English Summary: Agri Clinic and Agribusiness Center for farmers and businessmen apply online and avail benefits

Like this article?

Hey! I am सुधा पाल . Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News