1. खेती-बाड़ी

Varieties of Mango: आम की उन्नत किस्में और उनकी विशेषताएं

Varieties of Mango

फलों का राजा कहे जाने वाले आम का इंतजार लोग पूरे साल बेसब्री से करते हैं. इसकी लोकप्रियता का अंदाजा हर साल इसकी बढ़ती मांग से ही लगाया जा सकता है. दुनिया भर में इसकी हज़ार से ज्यादा किस्में हैं, लेकिन भारत में होने वाली आमों की बात ही खास है. तो आइये जानते हैं आम की कुछ खास किस्मों के बारे में....

हाफूस आम (Alphanso Mango)

  • आम का शाही पीलापन बाकी सभी फलों को फीका कर देता है. लेकिन भारत के इस खास आम हाफूस (अल्फांसो) की मिठास, स्वाद और सुगंध ही इसे बाकी आमों से अलग बनाती है.

  • इसकी खासियत है पकने के एक हफ्ते बाद तक खराब नहीं होता और इस आम का GI टैग भी दिया गया है जो अलफांसो की प्रामाणिकता को दर्शाता है.

  • इसे आमों का राजा के नाम से बाजार में बेचा जाता है. उत्तर प्रदेश, बिहार, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, गुजरात और तमिलनाडु हाफूस (अल्फांसो) के प्रमुख आम उत्पादक राज्य हैं.

बंगनपल्ली आम (Banganapalli Mango)

  • आंध्र प्रदेश के कुरनूर ज़िले में बंगनपल्ली के शाही परिवार ने इस आम का परिचय कराया था.

  • हाल ही में इस आम को GI टैग भी दिया गया है, इस आम के दीवाने तो यहां तक कहते हैं कि इसका छिलका तक इतना अच्छा और मीठा होता है कि मन करता है उसे भी खा जाएं. इस सम्बंधित अधिक जानकारी के लिए विडियो लिंक पर क्लिक करें https://youtu.be/M2_BXQ7MF2E

हिमसागर और मालदा आम (Himsagar and Malda Mango)

  • हिमसागर एक बहुत ही लोकप्रिय आम की किस्म है. यह भारत के पश्चिम बंगाल में और बांग्लादेश के राजशाही में मिलता है, तो वही पटना के मालदा आम की खुशबू और मिठास देश-विदेश तक फैली हैं.

  • मालदा आम की मिठास और खुशबू की वजह से हर साल अमेरिका, यूरोप, दुबई, स्वीडन, नाइज़ीरिया, इंग्लैंड जैसे देशों में रहने वाले लोग इसे बड़े शौख से खाते हैं. महाराष्ट्र, यूपी, गुजरात, पश्चिम बंगाल, दिल्ली, राजस्थान जैसे राज्यों में भी मालदा आम के चाहने वालों की भरमार है.

दशहरी, चौसा, लंगड़ा आम (Dussehri, Chausa, Langra Mango)

उत्तर प्रदेश में दशहरी आम का बोलबाला है,  क्योंकि यहां सबसे ज़्यादा लोग दशहरी को ही पसंद करते हैं. अब अगला नंबर आता है लंगड़ा आम का जो मूल रूप से लंगड़ा आम बनारसी मूल का है. लंगड़ा रेशेदार आम होता है, यह अपनी मिठास के लिए जाना जाता है. आम खाने वाले इसे इसलिए भी पसंद करते हैं, क्योंकि इसकी आम की गुठली काफी छोटी होती है और गुदा ज़्यादा होता है.

मनकुरद और मुसरद आम (Mankurd and Musrad Mango)

गोवा में मिलने वाले मनकुरद, मुसरद, नीलम और बाल आंबू जैसे आम यहां के लोगों को खास पसंद हैं. शुरुआती अप्रैल में बाज़ार में आने वाले ये आम गर्मियों की शुरुआत को ही मीठ कर देते हैं. गोवा में मिलने वाले मनकुरद आम से यहां के लोग चटनी, जैम के साथ साथ कई डिशेज भी बनाकर खाते हैं और इसका लूफ्त उठाते हैं.

कोलंबिया के गुआयाता (Guayata) स्थित सैन मार्टिन फार्म (San martin farm) में दुनिया का सबसे बड़ा आम उगाया गया है. दरअसल, इस फार्म के मालिक जर्मन ऑरलैंडो नोवोआ बरेरा और उनकी पत्नी रीना मारिया मारोक्विन ने मिलकर दुनिया का सबसे भारी आम उगाने का रिकॉर्ड बनाया है, क्योंकि इसका वजन 4.25 किलोग्राम है और इसका नाम गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल किया गया है.

बादामी आम (Badami Mango)

मिठास की बात की जाए तो बादामी आम का भी कोई जबाव नहीं है.. बादामी आम को कर्नाटक का अलफान्सो भी कहा जाता है, क्योंकि यह आम अपनी ताजगी के लिए जाना जाता है.

English Summary: Varieties of Mango: Advanced varieties of mangoes and their characteristics

Like this article?

Hey! I am विवेक कुमार राय. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News