1. खेती-बाड़ी

देश में बढ़ता अर्बन फार्मिंग का ट्रेंड, लोगों की दैनिक आहार की जरूरतों को कर रहा पूरा

मनीशा शर्मा
मनीशा शर्मा

आज के समय में शहरों में खेती करना सबसे बड़ी चुनौती बन गया है. क्योंकि जगह-जगह मॉल, हॉस्पिटल और स्कूल बन रहें है. जिस कारण आजकल शहरों में अर्बन फार्मिंग का ट्रेंड बढ़ रहा है. ऐसे में लोगों ने घरों में ही कम जगह में खेती करना शुरू कर दिया है. वैसे तो ये कॉन्सेप्ट पहले विदेशों में चलाया जा रहा था लेकिन समय के साथ अब यह हमारे देश के भी शहरी लोग फॉलो करने लग गए है. अब तो हमारी भारत सरकार भी लोगों को इसके प्रति प्रोत्साहित कर रही है कि वे भी अपने घरों में इस कांसेप्ट को अपनाए और अपने परिवार को स्वस्थ बनाए. आज हम आपको अपने इस लेख में इस विदेशी कॉन्सेप्ट यानी अर्बन फार्मिंग के बारे में बताएंगे. जिसे आप अपनाकर घर बैठे शुद्ध और हरी सब्जियों का लुत्फ उठा सकेंगे. तो आइए जानते है कैसे होती है अर्बन फार्मिंग…

छत पर खेती (Terrace Farming)

आप अपने घर की छत का प्रयोग भी टेरेस फार्मिंग के लिए कर सकते है. जिसपर आप कई तरह की सब्जियों और फूलों की खेती कर सकते है. जैसे - टमाटर, नींबू, एलोवेरा,मेरीगोल्ड,हरी मिर्च, गुलाब आदि.

दीवारों पर खेती (Vertical Farming)

यह खेती घर की दीवारों पर आसानी से कर सकते हैं. इसके तहत आप बेल वाली सब्जियों या फिर फूलों को उगा सकते है जैसे - लौकी, तोरई, कद्दू, टिंडा, करेला और खीरा आदि.

बालकनी में खेती  (Balcony Farming)

अगर आप घर में खेती करने के शौकीन है तो आप बालकनी को खेती के लिए भी इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके तहत आप नागफनी, गेंदा और मॉर्निंग ग्लोरी आदि के पौधे उगा सकते हैं और अपनी बालकनी को खूबसूरत बना सकते है.

English Summary: The trend of urban farming in the country can meet the daily dietary requirements

Like this article?

Hey! I am मनीशा शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News