1. खेती-बाड़ी

मध्यप्रदेश में उद्यानिकी के विकास की व्यापक संभावनाएँ हैं- राज्यमंत्री

श्याम दांगी
श्याम दांगी
Mp

मध्य प्रदेश की शिवराज सिंह चौहान सरकार उद्यानिकी के विकास के लिए प्रयासरत है. इसके लिए ग्राम स्तर पर कोशिश की जा रही है. मध्य प्रदेश उद्यानिकी राज्य मंत्री भारत सिंह कुशवाह ने हाल ही में कहा कि प्रदेश में उद्यानिकी के विकास की व्यापक संभावनाएँ मौजूद हैं. विभाग के अधिकारियों को ग्राम-स्तर पर पदस्थ मैदानी अमले के साथ काम करने की आवश्यकता है. उन्होंने बताया कि योजनाओं की सफलता गाँव में और नर्सरियों में पहुंच कर  कृषकों के साथ काम करने से ही सुनिश्चित हो सकेगी. उन्होंने यह बात सागर और जबलपुर संभाग के उद्यानिकी विभाग  के अधिकारियों की समीक्षा बैठक में कही.

mango

समीक्षा बैठक को सम्बोधित करते हुए राज्य मंत्री कुशवाह ने कहा कि लक्ष्यों की शत-प्रतिशत पूर्ति नहीं हो पाने से साफ होता है कि अपेक्षित रुचि से काम नहीं किया गया है. उन्होंने अधिकारियों से कहा कि किसी भी योजना में लक्ष्य प्राप्त करने के लिए अधिकारी, कर्मचारी को काम में  रुचि लेना जरूरी है. सभी अधिकारी अपनी जिम्मेदारी को समझें और किसानों के हित में संचालित विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन पर ध्यान दें. साथ ही उन्होंने कहा कि विभागीय अधिकारियों की उदासीनता और लापरवाही को बर्दाश्त नहीं किया जायेगा. विभाग की संभागीय समीक्षा बैठकों के बाद वे जिला स्तर और ब्लॉक स्तर पर भी समीक्षा करेंगे. जिलों के साथ-साथ विभाग की नर्सरियों और उद्यानिकी फसलों के उत्पादन से जुड़े किसानों के खेतों तक वे स्वयं भी पहुँचेंगे.

nursery

उन्होंने कहा कि प्रदेश में लाखों किसान  फल, सब्जी, फूल, मसालों की खेती से जुड़े हैं. ऐसे में विभाग को उद्यानिकी का रकबा और उत्पादन दोनों बढ़ाना है. बैठक में राज्य मंत्री ने यह भी बताया कि जबलपुर संभाग के मण्डला जिले में 8596 हेक्टेयर रकबे में उद्यानिकी फसलों की खेती हो रही है, जो संभाग के अन्य जिलों से कम है, मण्डला जिले के अधिकारी ध्यान दें. वहीं सागर संभाग के पन्ना जिले में संभाग के अन्य जिलों की तुलना में सबसे कम 11 हजार 295 हेक्टेयर उद्यानिकी फसलों का रकबा है.  बैठक में कृषकों के प्रशिक्षण आयोजित करने, विभाग की नर्सरियों को स्थानीय किसानों की जरूरत के अनुसार विकसित करने सहित सभी योजनाओं की जिलावार प्रगति की समीक्षा की गई.  इस बैठक में आयुक्त उद्यानिकी पुष्कर सिंह और जबलपुर एवं सागर संभागों के जिलाधिकारी मौजूद थे.

English Summary: state Minister said that there are wide possibilities of development of horticulture in Madhya Pradesh

Like this article?

Hey! I am श्याम दांगी. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News